पहला पन्ना > राष्ट्र Print | Send to Friend | Share This 

निठारी कांड: सुरेंद्र कोली को राहत

निठारी कांड: सुरेंद्र कोली को राहत

नई दिल्ली. 07 जनवरी 2010


सुप्रीम कोर्ट ने नोयडा के बहुचर्चित निठारी कांड के मुख्य अभियुक्त सुरेंद्र कोली को मिली फांसी की सज़ा पर रोक लगा दी है. गौरतलब है कि 19 दिसंबर 2006 को नोयडा के निठारी कस्बे में कारोबारी मोनिंदर सिंह पंढेर के घर के पीछे 19 बच्चों के कंकाल मिले थे. इसके बाद पंढेर और उसके नौकर सुरेंद्र सिंह कोली को इन बच्चों के दुष्कर्म और हत्या का आरोपी बनाया गया था.

इसके बाद सीबीआई की विशेष अदालत ने कोली और इस केस के सहअभियुक्त मोनिंदर सिंह पंढेर को फांसी की सज़ा सुनाई थी. इसके बाद पंधेर ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय में इस फैसले के खिलाफ याचिका दायर की थी. जिसके बाद सितंबर 2009 में उसे निर्दोष मानते हुए बरी कर दिया गया जबकि कोली की सजा बरकरार रखी गई थी.

इसके बाद सुरेंद्र कोली ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी जिसमें उसे राहत दी गई है. जिसके साथ सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार और सीबीआई को नोटिस भी जारी किया. अदालत ने कोली की सजा पर यूपी सरकार और सीबीआई से उनकी राय मांगी है