पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

कांग्रेस ने मानी आप की शर्तें

कांग्रेस ने मानी आप की शर्तें

नई दिल्ली. 16 दिसंबर 2013

congress


कांग्रेस ने आम आदमी पार्टी (आप) के दिल्ली में सरकार बनाने के संबंध में किए गए 18 सवालों का जवाब दे दिया है. कांग्रेस ने कहा कि 18 बिंदुओं में से 16 प्रशासन से संबंधित हैं जिन पर आप चाहे तो दिल्ली में सरकार गठन के बाद उससे चर्चा कर हल निकाल सकती है.

कांग्रेस महासचिव एवं पार्टी के दिल्ली प्रभारी शकील अहमद के हस्ताक्षर वाले पत्र में पार्टी ने कहा है कि बाकी बचे दो बिंदु- जन लोकपाल विधेयक और दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा- दिल्ली सरकार के अधिकार क्षेत्र से बाहर यानी केंद्र के स्तर की बात है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव में मात्र आठ सीटों तक सिमटी कांग्रेस ने 28 सीटें जीतने वाली आप को सरकार गठन के लिए बिना शर्त समर्थन देने की पेशकश की थी. लेकिन आप ने पेशकश पर विचार करने से पहले 18 बिंदुओं वाला पत्र भेजकर कांग्रेस से इन बिंदुओं पर अपनी राय स्पष्ट करने को कहा था.

अहमद ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, "आप एक नई पार्टी है, इसलिए उसमें अनुभव की कमी है, वे नहीं जानते कि उनके भेजे 16 बिंदुओं का हल प्रशासनिक स्तर पर निकाला जा सकता है. ये बिंदु विधायी मसले नहीं हैं, इसलिए इन पर उन्हें हमारे समर्थन की जरूरत नहीं है. बाकी बचे दो बिंदुओं पर हम समर्थन देंगे लेकिन वे भी दिल्ली सरकार के स्तर की नहीं, केंद्र के स्तर की बातें हैं."