पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

किरण बेदी के निशाने पर केजरीवाल

किरण बेदी के निशाने पर केजरीवाल

नई दिल्ली. 11 जनवरी 2013

बेदी-केजरीवाल


कभी भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन में अरविंद केजरीवाल की साथी रहीं पूर्व आईपीएस अफसर किरण बेदी ने उनके अनुभव पर तंज कसा है.

बेदी ने केजरीवाल को नसीहत देते हुए कहा है कि सरकारें सचिवालयों की छतों से नहीं चला करती हैं. उन्होंने ट्वीट के जरिए कहा, 'भगवान के लिए, अरविंद और टीम, सचिवालय छतों से नहीं चलाए जाते! प्लीज सुनने-समझने में वक्त लीजिए! तब जाकर अच्छे से विचार करके फैसले लीजिए.’

हाल ही में भाजपा के पीएम पद प्रत्याशी नरेंद्र मोदी का समर्थन कर चुकीं बेदी ने अपने अगले ट्वीट में केजरीवाल के अनुभव पर कटाक्ष करते हुए लिखा, 'शासन चलाने के अच्छे और बुरे तरीकों का पता होना चाहिए. अनुभवी नेतृत्व अच्छी परंपराएं स्थापित करता चलता है और बुरी परंपराओं का हटाता जाता है.'

गौरतलब है कि दिल्ली सचिवालय में शनिवार को आयोजित जनता दरबार भारी भीड़ के कारण अव्यवस्था का शिकार हो गया. इस आयोजन जिसको लेकर राज्य के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी सरकार को काफी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है.

मुख्यमंत्री और उनका मंत्रिमंडल लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए जहां इकट्ठा हुए, वहां भारी भीड़ जमा हो गई. दिल्ली पुलिस और सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) कर्मियों को भीड़ को संभालने में काफी मशक्कत करनी पड़ी. कुछ जगहों पर तो लोगों ने बैरीकेड़्स ही तोड़ डाले.

भीड़ को देखते हुए दिल्ली पुलिस के सुझाव पर मुख्यमंत्री केजरीवाल को वहां से सिर्फ 45 मिनट के भीतर ही निकलना पड़ा जबकि आयोजन पूरे दो घंटे तक किया जाना था हालांकि राज्य सरकार ने आगे इसका आयोजन और बेहतर तरीके से करने का वादा किया.