पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

भाषा सुधारें सोमनाथ भारती

भाषा सुधारें सोमनाथ भारती

नई दिल्ली. 24 जनवरी 2014

सोमनाथ भारती


दिल्ली के कानून मंत्री सोमनाथ भारती को भले उनकी पार्टी से क्लिन चिट मिल गई हो लेकिन उनके लिये कानूनी दांव-पेंच से बच पाना आसान नहीं होगा. उनके लिये सबसे बड़ी मुश्किल युगांडा की महिलाओं द्वारा दायर किये गये मुकदमों के कारण होने वाली है, जिसमें साफ नज़र आ रहा है कि सोमनाथ भारती को राहत नहीं मिलेगी. उपर से कांग्रेस इस मुद्दे को दूसरे देशों के साथ अपने राजनयिक संबंधों का हवाला देकर हवा देने में लगी हुई है.

इधर आम आदमी पार्टी ने कहा है कि उनके कानून मंत्री सोमनाथ भारती ने जो कुछ किया है, उसमें कोई भी गलती नहीं है. लेकिन पार्टी ने यह भी कहा है कि सोमनाथ भारती को अपनी भाषा सुधारनी चाहिये. पार्टी नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि रात में विदेशी महिलाओं के खिलाफ की गई छापामारी के विडियो फुटेज देखने और तमाम पहलुओं पर चर्चा करने के बाद पहली नजर में सोमनाथ के खिलाफ ऐसा कोई सबूत नहीं मिला है, जिससे यह साबित हो सके कि उन्होंने कुछ गलत किया था.

योगेंद्र यादव ने कहा कि सोमनाथ भारती ने इस मामले में जो दख़ल दी वो किसी व्यक्तिगत स्वार्थ या अहम के चलते नहीं, बल्कि वहां के नागरिकों की समस्या के जवाब में दी. सोमनाथ ने जो जवाब दिया वो जनप्रतिनिधि के रूप में उनकी ज़िम्मेवारी बनती थी.

योगेंद्र यादव ने कहा कि इसमें न तो कोई भ्रष्टाचार है, न कोई बेजा काम है, न इसमें कोई अन्याय है. एक जनप्रतिनिधि के रूप में सोमनाथ की तारीफ़ की जानी चाहिए कि उन्होंने अपने दुख-सुख का ध्यान किए बिना, जनता के दुख-सुख को सुना, उनके साथ गए.

योगेंद्र यादव ने कहा कि भारती ने ऐसा कोई काम नहीं किया जो एक मंत्री को नहीं करना चाहिए था. पार्टी की ओर से की गई शुरुआती जांच में पाया गया है कि उन्होंने यूगांडा की महिलाओं के साथ न तो बदसलूकी की और न ही उन पर हमला किया. यह भी नहीं पाया गया कि उन्होंने किसी तरह की नस्लभेदी टिप्पणी की. हालांकि, सोमनाथ द्वारा बीजेपी नेताओं के खिलाफ इस्तेमाल की गई भाषा को लेकर पार्टी ने आपत्ति जताई और उसकी निंदा करते हुए हिदायत दी कि आगे से वह अपनी भाषा पर संयम रखें.

आम आदमी पार्टी की पॉलिटिकल अफेयर्स कमिटी की बैठक में सोमनाथ भारती को क्लीन चिट देते हुए कोई कार्रवाई न करने का फैसला किया गया. पार्टी ने कहा कि खिड़की एक्सटेंशन में आधी रात को रेड के मामले में उपराज्यपाल के आदेश पर हो रही न्यायिक जांच में अगर सोमनाथ को दोषी पाया जाता है तो पार्टी उनके खिलाफ उचित कार्रवाई करेगी. पार्टी ने कहा कि भारती के खिलाफ किसी कार्रवाई से पहले न्यायिक जांच के नतीजों का इंतजार करना चाहिए.