पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

लड़कियां रात में घूमेंगी तो रेप होंगे ही

लड़कियां रात में घूमेंगी तो रेप होंगे ही

नागपुर. 29 जनवरी 2013

आशा मिरगे एनसीपी


महाराष्ट्र महिला आयोग की सदस्य और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) से जुड़ीं डॉ. आशा मिरगे महिलाओं के संबंध में एक विवादास्पद बयान देकर फस गई हैं. राष्ट्रीय महिला आयोग ने मिरगे को नोटिस जारी कर इन पर उन्हें सात दिन के अंदर जवाब देने को कहा है.

गौरतलब है कि मिरगे ने राकांपा कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा था कि लड़कियों की 'बॉडी लैंग्वेज' ऐसी नहीं होनी चाहिए कि संभावित बलात्कारियों का ध्यान उन पर जाए.

उन्होंने इस दौरान यह भी कहा कि लड़कियों को इस बात के लिए सतर्क रहना चाहिए कि वो किस समय पर बाहर जा रही हैं और किस तरह के कपड़े पहन के बाहर जा रहीं हैं. उन्होंने कहा कि लड़कियों देर रात निकलेंगे तो रेप जैसी घटनाएं होंगी हीं.

अपनी बात के समर्थन में दिल्ली में 16 दिसंबर 2012 को चलती बस में 23 वर्षीय पैरामेडिकल छात्रा से सामूहिक बलात्कार तथा मुंबई के सुनसान शक्ति मिल्स में पिछले साल एक फोटो पत्रकार के साथ हुई ऐसी ही घटना का जिक्र करते हुए मिरगे ने कहा कि गैंगरेप का शिकार लड़की रात को पिक्चर देखने ही क्यों गई? और फोटो पत्रकार भी शाम को 6 बजे शक्ति मिल जैसी जगह पर क्यों गई?

मिरगे के इस बयान को लेकर उनकी पार्टी राकांपा की वरिष्ठ नेता सुप्रीया सुले ने मिरगे का बचाव करते हुए कहा है कि उनकी सलाह हमारे संस्कार का हिस्सा है. वहीं बाकी राजनीतिक दलों भाजपा, कांग्रेस और आप ने इस पर एतराज जताया है.