पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

पत्नी चाहती है नरेंद्र मोदी बने पीएम

पत्नी चाहती है नरेंद्र मोदी बने पीएम

अहमदाबाद. 1 फरवरी 2014

नरेंद्र मोदी


भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी की पत्नी जशोदा बेन का कहना है कि उन्हें इस बात का भरोसा है कि नरेंद्र मोदी एक दिन प्रधानमंत्री बनेंगे. एक स्कूल से सेवानिवृत शिक्षक जशोदा बेन के पास ढेर सारी यादें हैं लेकिन उन्हें उन बीते हुये दिनों से कोई शिकायत नहीं है. नरेंद्र मोदी से अलग होने के जशोदा बेन इन दिनों अपने भाई अशोक मोदी के साथ रहती हैं, जहां उनका अधिकांश समय पढ़ने-लिखने और पूजा-पाठ में गुजरता है.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस को दिये एक साक्षात्कार में वे बताती हैं कि "नरेंद्र मोदी से मेरी शादी 17 साल की उम्र में हुई थी और इसके बाद मैंने अपनी पढ़ाई छोड़ दी, लेकिन वह चाहते थे कि मैं पढ़ाई पूरी करूं. अलग होने के बाद हमारे बीच कभी संपर्क नहीं रहा. हमारे बीच कभी झगड़ा नहीं हुआ था. हमारी शादी तीन साल चली और इस दौरान हम केवल तीन महीने ही साथ रहे.

पुराने दिनों को याद करती हुई जशोदा बेन कहती हैं- "एक बार उन्होंने मुझसे कहा था कि मैं पूरे देश के भ्रमण पर निकलूंगा और जहां अच्छा लगेगा जाऊंगा, तुम मेरे साथ चलकर क्या करोगी? जब मैं अपने ससुराल वडनगर गई तो उन्होंने कहा कि तुम खुद इतनी छोटी हो ससुराल क्यों आ गई, तुम्हें अपनी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहिए. अलग होने का फैसला मेरा था और हमारे बीच कभी विवाद नहीं हुआ. उन्होंने मुझसे कभी भी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ या राजनीतिक रुझान के बारे में बात नहीं की. कई बार जब मैं ससुराल जाती थी, तो उन्हें वहां नहीं पाती थी. बाद में उन्होंने घर आना बंद कर दिया और संघ के प्रचार पर निकल गए. कुछ वक्त के बाद मैंने भी वहां जाना बंद कर दिया और अपने पिता के घर पर रहने लगी."

नरेंद्र मोदी से अलग होने के बाद फिर शादी क्यों नहीं की, इश सवाल के जवाब में जशोदा बेन का कहना था कि शादी के इस अनुभव के बाद मैं शादी नहीं करना चाहती थी. मेरा दिल इसे मानने के लिए तैयार नहीं था. जशोदा बेन का कहना था- 'मेरे ससुराल वाले मेरे साथ अच्छा व्यवहार करते थे. मैंने फिर से पढ़ाई शुरू कर दी. इसमें मेरे पिता और भाई ने मदद की.'

यह पूछे जाने पर कि क्या आप कानूनी रूप से अभी भी मोदी की पत्नी हैं? जशोदा बेन का जवाब था- "हर बार जब उनका नाम लिया जाता है, तो वहां मेरा भी कहीं ना कहीं जिक्र होता है. आप भी मुझे ढूंढते हुए मेरे पास आए हो. अगर मैं उनकी पत्नी नहीं होती तो आप मुझसे क्यों बात करते?"

जशोदा बेन नरेंद्र मोदी की हर खबर से बाखबर रहती हैं. वे कहती हैं कि उन्हें मोदी के प्रधानमंत्री बनने की खबर पढ़कर अच्छा लग रहा है और उन्हें भरोसा है कि एक दिन वह जरुर भारत के प्रधानमंत्री बनेंगे. वे कहती हैं- "जो भी संभव होता है, मैं पढ़ती हूं. मैं अखबार के सारे आर्टिकल्स पढ़ती हूं और टेलिविजन पर न्यूज देखती हूं. उनके बारे में पढ़ना मुझे अच्छा लगता है."

मोदी के साथ भविष्य के रिश्ते को लेकर वे कहती हैं-"हम दोनों का आपस में कोई संपर्क नहीं रहा और मुझे नहीं लगता कि वह मुझे कभी कॉल करेंगे. मैं जो भी कह रही हूं उससे मेरा इरादा उन्हें नुकसान पहुंचाने का नहीं है. मैं तो केवल इतना चाहती हूं कि वह जो भी कर रहे हैं उसमें आगे बढ़े. मुझे पता है कि वह एक दिन पीएम जरूर बनेंगे."