पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >खेल > Print | Share This  

न्य़ूजीलैंड से पहला टेस्ट हारा भारत

न्य़ूजीलैंड से पहला टेस्ट हारा भारत

ऑकलैंड. 9 फरवरी 2013

क्रिकेट


भारत और न्यूजीलैंड के बीच ईडेन पार्क में खेले गए पहले टेस्ट मैच के चौथे दिन रविवार को 407 के लक्ष्य का पीछा कर रही भारतीय टीम दूसरी पारी में 366 रन ही बना सकी और इस तरह वह 40 रनों से हार गई. भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की कप्तानी में विदेश की धरती पर भारतीय टीम की यह 10वीं टेस्ट हार है. इस हार के साथ भारत दो मैचों की सीरीज़ में 1-0 से पीछे हो गया है.

न्यूजीलैंड ने पहली पारी में ब्रेंडन मैक्लम (224)और केन विलियम्सन (113) की बदौलत 503 रन बनाए थे. इसके बाद भारत ने तीसरे दिन शनिवार को न्यूजीलैंड की दूसरी पारी 105 रनों पर समेट दी थी. इसके जवाब में भारत ने पहली पारी में 202 रन और दूसरी पारी में 366 रन ही बना सकी और इस तरह वह 40 रनों से हार गई.

दूसरी पारी में खराब बल्लेबाजी और अम्पायरों के कुछ गलत निर्णयों का खामियाजा भारतीय टीम को भुगतना पड़ा. चायकाल से पहले अंजिक्य रहाणे जब 18 के निजी योग पर खेल रहे थे तब गेंद बल्ले का किनारा लेकर पैड पर लगी थी लेकिन उन्हें पगबाधा करार दिया गया. इससे भारतीय टीम बैकफुट पर आ गई. इसके बाद महेंद्र सिंह धौनी को आउट करार दिए जाने पर भी विवाद रहा. इसके बाद भारतीय समर्थकों में निराशा छा गई.

इसके साथ ही भारतीय बल्लेबाजों के आउट होने में खराब शॉट का भी योगदान रहा. विराट कोहली (67), रोहित शर्मा (19) और रवींद्र जडेजा का खराब ढंग से खेलना भारतीय हार में अहम भूमिका रही.

धौनी ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मैच को लेकर मेरी मिश्रित प्रतिक्रिया है. उन्होंने कहा कि दूसरी नई गेंद से विकेट गंवाने और अंपायरों के कुछ गलत निर्णय ने इस मैच में निर्णायक भूमिका निभाई. उन्होंने कहा कि इस तरह के नजदीकी मामले वाले मैचों से खिलाड़ियों को अच्छा अनुभव हासिल होता है.

न्यूजीलैंड ने 85 ओवर के बाद नई गेंद लेने का निर्णय किया और यह भारत के लिए नुकसानदायक सिद्ध हुआ जब भारत ने रहाणे और रोहित शर्मा के विकेट गंवाए. चायकाल के तुरंत बाद रोहित शर्मा आउट हो गए. इसके बाद धौनी और जडेजा ने जवाबी आक्रम किया और 34 गेंद में 54 रन जुटाए लेकिन जडेजा मिडआन पर कैच कर लिए. भारत को अब जीत के लिए 82 रनों की दरकार थी और उसके तीन विकेट शेष थे.

जहीर खान (17) और धौनी ने आठवें विकेट के लिए 25 रन जोड़े लेकिन वैगनर ने जहीर को चलता कर दिया. धौनी का आउट होना भारतीय हार में आखिरी कील साबित हुआ. न्यूजीलैंड टीम के नील वैग्नर ने दूसरी पारी में चार विकेट लिए. उन्होंने पहली पारी में भी चार विकेट लिए थे.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in