पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

केजरीवाल ने अंबानी पर बोला हमला

केजरीवाल ने अंबानी पर बोला हमला

नई दिल्ली. 11 फरवरी 2014

अरविंद केजरीवाल


आम आदमी पार्टी के नेता अरविंद केजरीवाल ने अपने तेवर और कड़े करते हुये मुकेश अंबानी और वीरप्पा मोइली के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरु कर दी है. दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने पूर्व मंत्री मुरली देवड़ा, पेट्रोलियम मंत्री वीरप्पा मोइली, पूर्व डीजी हाइड्रोकार्बन वीके सिब्बल, मुकेश अंबानी और रिलायंस इंडस्ट्रीज व अन्य लोगों के खिलाफ एंटी करप्शन ब्यूरो को मामला दर्ज करने का आदेश जारी किया है.

अरविंद केजरीवाल के इस हमले के बाद से देश भर के राजनीतिक और औद्योगिक घरानों में हंगामा मचा हुआ है. माना जा रहा है कि केजरीवाल के इस कदम के बाद कांग्रेस आम आदमी पार्टी की सरकार से अपना समर्थन वापस ले सकती है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि एडमिरल तहलियानी, पूर्व कैबिनेट सेक्रेटरी टीएसआर सुब्रमण्यम, वकील कामिनी जयसवाल और पूर्व इकनॉंमिक अफेयर्स सेक्रेटरी ईएएस शर्मा ने रिलायंस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है कि कंपनी एक डॉलर की गैस को 8 डॉलर में बेचने की तैयारी कर रही है. इसमें केंद्र सरकार के कुछ मंत्रियों की मिलीभगत भी है. इसी के आधार पर उन्होंने कांग्रेस के नेताओं, मंत्रियों और मुकेश अंबानी के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिये हैं.

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मनमोहन सिंह की सरकार ने केजी बेसिन में कुओं की गैस निकालने के लिए रिलायंस कंपनी को जो ठेका दिया है, उसके दामों पर प्रति यूनिट लगातार बढ़ोतरी की जा रही है. इस भ्रष्टाचार में केंद्र सरकार की पूरी मिलीभगत है. इनके द्वारा प्रति यूनिट एक डॉलर की लागत से तैयार गैस पर 17 सालों के लिए 2.3 डॉलर की दर से रिलायंस से गैस सप्लाई का सौदा हुआ था, लेकिन थोड़े ही दिनों में नीयत बदल गई और केंद्र के मंत्रियों से मिलीभगत करके इसकी दर 4 डॉलर तय कर दी गई.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें ऐसी जानकारी मिली है कि लोकसभा चुनाव से पहले इस दर को बढ़ाकर आठ डॉलर किया जा रहा है. अगर ऐसा हुआ तो देश की सीएनजी महंगी हो जाएगी, जिसका असर ट्रांसपोर्ट पर पड़ेगा. इतना ही नहीं ऐसा करने से बिजली के दाम बढ़ेंगे, खाद महंगी हो जाएगी, जिससे सब्जी, गेहूं, चावल के दाम भी बढ़ जाएंगे. उन्होंने कहा कि अगर यह करार हो गया तो रिलायंस को सालाना 54 हजार करोड़ रुपये का लाभ पहुंचेगा.

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि वह प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पेट्रोलियम मंत्री वीरप्पा मोइली को चिट्ठी लिखेंगे कि जब तक जांच जारी है, गैस की कीमत बढ़ाने के फैसले को स्थगित किया जाए. उन्होंने कहा कि जांच के दौरान एसीबी के अधिकारी पेट्रोलियम मंत्रालय से संबंधित फाइलें मांगेंगे और हम अपेक्षा करते हैं कि पेट्रोलियम मंत्रालय इसमें सहयोग करेगा. अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस मामले में भाजपा के लोग भी चुप्पी साधे हुये हैं.

 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

dhananjay singh [2014dsinghh@gmail.com] noida - 2014-02-11 12:53:37

 
  पहले आप धरने पर बैठते थे तो पूरी मीडिया दिन रात आपके साथ सचिवालय से लेकर शौचालय तक टीआरपी देती थी, अब मीडिया ने राजनीति के बड़े आसामियों को टीआरपी देना शुरू किया तो आपके निशाने पर भी कॉर्पोरेट के बड़े आसामी आ गए ...... 
   
सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in