पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

संतुलित रहा अंतरिम बजट: मनमोहन

संतुलित रहा अंतरिम बजट: मनमोहन

नई दिल्ली. 17 फरवरी 2013

मनमोहन


प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के द्वारा पेश अंतरिम बजट को संतुलित बताते हुए कहा है कि इसमें पिछले 10 सालों की उपलब्धियों का सारांश पेश किया गया है, जिस पर उनकी सरकार को गर्व है. इससे पहले केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने सोमवार को एक काफी संतुलित बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ने विनिर्माण और आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए कई उद्योगों को घटे उत्पाद कर का तोहफा दिया है.

इसका असर कारों, एसयूवी वाहनों और दोपहिया वाहनों पर होगा जिससे मंदी में चल रहे वाहन उद्योग को काफी राहत पहुँचेगी. इसके अलावा आम उपभोक्ताओं के लिए काम आने वाले घरेलू मोबाइल हैंडसेट, साबुन, फ्रिज, टीवी इत्यादि भी सस्ते होंगे.

वित्त मंत्री ने इस बार वन रैंक वन पेंशन योजना को भी हरी झंडी दे दी है, जिससे सेना के 30 लाख जवानों को फायदा होगा. इसके अलावा छात्रों के लिए बजट में एजुकेशन लोन पर टैक्स छूट दी गई है, वहीं अगले 10 सालों में 10 करोड़ नौकरियां सृजित करने का लक्ष्य भी रखा गया है.

अंतरिम बजट में चिदंबरम ने आयकर स्लैब में कोई बदलाव नहीं किया है और एक करोड़ रुपये सालाना से अधिक कमाई करने वाले अमीरों पर पिछले साल लगाया गया 10 प्रतिशत अधिभार बरकरार रखा है.

बजट के मुख्य बिंदु इस प्रकार रहे-

- वित्तीय घाटा तीन फीसदी
- (सार्वजनिक-निजी भागीदारी) पीपीपी मॉडल को और बढ़ावा
- विनिर्माण क्षेत्र को निर्यात में सभी करों से छूट
- 2014-15 के लिए योजनागत व्यय 5 लाख, 55 हजार 322 करोड़ रुपये
- रक्षा खर्च 10 फीसदी वृद्धि के साथ 2 लाख 24 हजार करोड़ रुपये
- 2014-15 में रेलवे को 29 हजार करोड़ रुपये की बजटीय सहायता
- एक पद एक पेंशन की मांग स्वीकृत, 2014-15 में 500 करोड़ रुपये के साथ कार्यान्वयन
- वित्त वर्ष 2014-15 में 3,38,562 लाख करोड़ रुपये की केंद्रीय सहायता
- 50,000 मेगावाट क्षमता के पारंपरिक बिजली उत्पादन संयंत्र निर्माणाधीन
- वित्त वर्ष 2014-15 में 500 मेगावाट क्षमता प्रत्येक वाले चार सौर बिजली उत्पादन संयंत्रों का होगा निर्माण
- 100 करोड़ रुपये के साथ सामुदायिक रेडियो को मिलेगा बढ़ावा
- वित्त वर्ष 2013-14 में अनुमानित विकास दर 4.9 फीसदी
- एक दशक में 10 करोड़ नौकरियों का सृजन होगा
- 19 तेल ब्लॉक आवंटित
- सात नए हवाईअड्डे निर्माणाधीन
- थोक महंगाई दर 5.05 फीसदी
- प्रमुख क्षेत्रों की महंगाई दर तीन फीसदी
- 2013-14 में खाद्यान्न उत्पादन अनुमानित 26.3 करोड़ टन
- मौजूदा कारोबारी साल में निर्यात अनुमानित 326 अरब डॉलर
- मौजूदा कारोबारी साल में 29,000 मेगावाट से अधिक बिजली उत्पादन बढ़ा
- वित्तीय घाटा 4.6 फीसदी
- चालू खाता घाटा 45 अरब डॉलर
- विदेशी पूंजी भंडार में 15 अरब डॉलर वृद्धि की उम्मीद.