पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

रामदेव के सिर की क़ीमत 1 करोड़

रामदेव के सिर की क़ीमत 1 करोड़

नई दिल्ली. 6 मई 2014

बाबा रामदेव


बाबा रामदेव का सिर लाने वाले को एक करोड़ रुपये का ईनाम देने संबंधी बयान को लेकर विवाद शुरु हो गया है. इस मामले को लेकर अधिकांश राजनीतिक दलों ने इस बयान की निंदा की है, वहीं कुछ संगठनों ने कहा है कि बाबा रामदेव के जिस बयान की प्रतिक्रिया में इस तरह की बात सामने आ रही है, उस मामले में रामदेव को निशर्त सार्वजनिक माफी मांगनी चाहिये.

होशियारपुर से बसपा के लोकसभा उम्मीदवार भगवान सिंह चौहान ने सोमवार को होशियारपुर बस स्टैंड के पास रामदेव का पुतला जलाते हुए कहा था कि जो रामदेव का सिर मेरे पास लाएगा, उसे मैं 1 करोड़ रुपये देने को तैयार हूं. बाद में जब मीडिया में बवाल हुआ तो भी चौहान ने कहा कि वे अपने बयान पर कायम हैं. चौहान का कहना था कि अगर रामदेव पूरे महिला समुदाय का अपमान कर सकते हैं तो मैं इस तरह का बयान क्यों नहीं दे सकता.

गौरतलब है कि रामदेव ने नरेंद्र मोदी के पक्ष में प्रचार करते हुये कहा था कि राहुल गांधी दलितों के यहां पिकनिक मनाने और हनीमून मनाने जाते हैं. इस बयान को लेकर जब दलित समुदाय ने आपत्ति दर्ज की तो बाबा रामदेव ने खेद प्रकट कर मामले का पटाक्षेप करने की कोशिश की.

लेकिन इस बयान के बाद रामदेव के खिलाफ मुकदमों का दौर शुरु हो गया. सबसे पहले उत्तरप्रदेश और हिमाचल में बाबा रामदेव के योग शिविरों पर प्रतिबंध लगाया गया, उसके बाद उनके खिलाफ देश के अलग-अलग हिस्सों में मुकदमे भी दर्ज किये गये.

अब बसपा नेता के बयान से सनसनी फैली हुई है. बाबा रामदे अब तक इस मामले में मौन हैं लेकिन माना जदा रहा है कि इस मामले में बाबा रामदेव या तो अपनी बेबसी दिखाएंगे या फिर पलटवार करते हुये इसके पीछे राजनीतिक साजिश होने का दावा करेंगे.