पहला पन्ना >राजनीति >दिल्ली Print | Share This  

मोदी की मां की देखभाल करना चाहते हैं अल्वी

मोदी की मां की देखभाल करना चाहते हैं अल्वी

नई दिल्ली. 8 मई 2014

नरेंद्र मोदी


कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने नरेंद्र मोदी को पत्र लिख कर उनकी मां की देखभाल करने का प्रस्ताव देते हुये एक नया विनम्र हमला बोला है. राशिद अल्वी ने नरेंद्र मोदी के जीने के अंदाज की बखिया उधेड़ते हुये यह दिखाने की कोशिश की है कि वे मोदी की मां की स्थिति से दुखी हैं.

नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में राशि अल्वी ने कहा है कि मैं यह समझ नहीं पा रहा हूं कि आप अपनी मां को एक आरामदायक जिंदगी क्यों मुहैया नहीं करा पाए, जिन्होंने आपका भविष्य सुंदर बनाने की चिंता में अपना पूरा जीवन लगा दिया. आपकी मां मेरी मां जैसी हैं. मेरे मन में उनके लिए बहुत सम्मान है. मुमकिन है कि मेरे पास आपके जितने साधन न हों, लेकिन मैं आपसे इल्तिजा करता हूं कि आप मुझे इजाजत दें कि मैं अपनी हैसियत से हिसाब से उन्हें आराम की जिंदगी के लिए जरूरी तमाम चीजें मुहैया करा सकूं.

मोदी के बयानों को ही आधार बनाते हुये अल्वी ने पत्र में लिखा है कि आपने बताया कि किस तरह वह आसपास के घरों में काम किया करती थीं ताकि वह आपको ठीक से पाल सकें. उन्होंने लगन और कड़ी मेहनत से आपको इस तरह से बड़ा किया कि आप न केवल गुजरात जैसे राज्य के मुख्यमंत्री बने बल्कि आगे बढ़ते हुए अपनी पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बनें.

अल्वी ने कहा कि आपकी मां आज भी आठ गुणा आठ के कमरे में रहती हैं और वोट डालने के लिये वे आटो रिक्शा में पहुंचीं. उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में जब पुत्र अच्छी स्थिति में होता है तो इसका सबसे पहले लाभ उसके अभिभावकों को मिलता है. पत्र में अल्वी ने लिखा है कि मोदीजी आपने हाल में अपना नामांकन दाखिल किया था जिसमें आपने अपनी सम्पत्ति 1.25 करोड़ रुपये घोषित की थी. मैं इस बात को लेकर चकित हूं कि एक आम आदमी के तौर पर भी इतनी सम्पत्ति होने के बावजूद आप अपनी मां को जरूरी सुविधाएं मुहैया कराने में असफल हैं.

मोदी पर हमला बोलते हुये राशिद अल्वी ने लिखा है कि हम नियमित तौर पर देखते हैं कि आप किस तरह से निजी विमानों और कई महंगी कारों के काफिले में सफर करते हैं. हमें डिजाइनर घड़ियों और मोंट ब्लैंक फाउंटेन कलमों की आपकी चाह की भी जानकारी है. ऐसे में आपकी मां की स्थिति को देखना दुखद है.