पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

माफ़ी की वह माँग तो भाव-विभोर करने वाली थी

संघर्ष को रचनात्मकता देने वाले अनूठे जॉर्

पूर्वोत्तर व कश्मीर में घिरी केंद्र सरकार

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

अंतिम सांसे लेता वामपंथ

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

पूर्वोत्तर व कश्मीर में घिरी केंद्र सरकार

भीड़ के ढांचे का सच खुल चुका

रिकॉर्ड फसल लेकिन किसान बेहाल

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राज्य >महाराष्ट्र Print | Share This  

मुंबई में मेट्रो सेवा रविवार से

मुंबई में मेट्रो सेवा रविवार से

मुंबई. 7 जून 2014

मुंबई मेट्रो


मुंबई में रविवार से मेट्रो सेवा आम जनता के लिए शुरु कर दी जाएगी. रिलायंस समूह की कंपनी आरइंफ्रा मेट्रो वन प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य प्रबंध अधिकारी (सीईओ) अभय मिश्रा ने शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की. इसके साथ ही देश की व्यवसायिक राजधानी मुंबई विश्वस्तरीय परिवहन सेवा के युग में प्रवेश कर जाएगी.

वर्सोवा-अंधेरी-घाटकोपर पूर्वपश्चिम मार्ग के 11.4 किलोमीटर के रास्ते में 12 स्टेशन पर सेवाओं का संचालन मुंबईवासियों के लिए विशेषकर मानसून के मौसम में वरदान साबित होगा.

मेट्रो सेवा सुबह 5.30 बजे शुरू होगी और आधी रात तक जारी रहेगी. इस सेक्टर में 16 मेट्रो रेल को रखा गया है, जो 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी. चार डिब्बे वाले रंगीन मेट्रो में 375 यात्री बैठ सकेंगे और वर्सोवा से घाटकोपर के रास्ते यह करीब 1,500 यात्रियों को सेवा पहुंचाएगा.

मुंबई मेट्रो में किफायती टिकट किराए के साथ करीब 60,000 यात्री रोजना सफर करेंगे. उन्होंने कहा, "दोनों मार्गो से प्रतिदिन 250 वातानुकूलित मेट्रो सेवाएं चलेंगी. चार-चार मिनट के अंतराल पर चलने वाली मेट्रो वर्सोवा से घाटकोपर की दूरी 21 मिनटों में पूरी करेगी."

यात्रा की शुरुआत 12 स्टेशनों में से वर्सोवा से होगी जो डीएन नगर, आजाद नगर, अंधेरी, वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे (डब्ल्यूईएच), चकाला एयरपोर्ट रोड, मरोल नाका, साकी नाका, सुभाष नगर, अलफा रोड होते हुए और घाटकोपर पर समाप्त होगी.

बताया जा रहा है कि प्रथम चरण (वर्सोवा-अंधेरी-घाटकोपर) की शुरुआत के साथ मुंबई को कोलाबा-बांद्रा-चर्काप (38.24 किलोमीटर) मार्ग और बांद्रा-कुर्ला-मनखुर्द (13.37 किलोमीटर) मार्ग के निर्माण का इंतजार करना होगा. वहीं दूसरे चरण में चर्काप-दहिसार (7.5 किलोमीटर), घाटकोपर-मुलुंड (12.4 किलोमीटर) और तीसरे चरण में मुंबई हवाईअड्डे से होते हुए बीकेसी-कंजुर्मार्ग (19.5 किलोमीटर), हुतात्मा चौक-घाटकोपर (21.8 किलोमीटर) और स्वेरी-प्रभादेवी (3.5 किलोमीटर) मार्ग का निर्माण होगा.

मुंबई में पूरी तरह से मेट्रो सेवा (146.5 किलोमीटर) के लिए 20,000 करोड़ रुपये का खर्च आएगा और यह साल 2021 तक पूरा होगा.

मौजूदा समय में पूर्व-पश्चिम मार्ग पर कोई उपनगरीय रेल सेवा मौजूद नहीं है और यहां पर लोग या तो बेस्ट की बसें या फिर टैक्सी लेकर 90-120 मिनट में अपनी यात्रा पूरी करते हैं.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in