पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

रेप के आरोपी मंत्री से मुश्किल में सरकार

रेप के आरोपी मंत्री से मुश्किल में सरकार

नई दिल्ली. 19 जून 2014

nihalchand meghwal


बलात्कार के आरोप का सामना कर रहे केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक राज्यमंत्री निहालचंद मेघवाल को लेकर मोदी सरकार मुश्किल में घिरती नज़र आ रही है. मोदी सरकार पर निहालचंद को मंत्रिपरिषद से हटाने के लिए चौतरफा मांग हो रही है लेकिन सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस पर चुप्पी साध रखी है.

मेघवाल की बर्खास्तगी की मांग को लेकर कांग्रेस पार्टी की महिला इकाई की 100 से अधिक कार्यकर्ताओं ने बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन किया. कार्यकर्ताओं ने मांग की कि पुलिस और भाजपा मेघवाल के खिलाफ कार्रवाई करे तथा महिलाओं की सुरक्षा के लिए सख्त कानून बनाया जाए.

इस मुद्दे पर राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी निहालचंद मेघवाल की बर्खास्तगी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखे जाने की बात कही है. मंगलवार को राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ममता शर्मा ने इस मामले को अस्वीकार्य बताते हुए कहा था कि जब कोई मंत्री दुष्कर्म जैसा जघन्य अपराध करता है, तो उसे भी एक आम नागरिक जैसा दंड दिया जाना चाहिए.

गौरतलब है कि एक युवती ने 2011 में जयपुर के वैशाली नगर पुलिस थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कराई थी, और मेघवाल व अपने पति समेत 15 अन्य पर यौन शोषण का आरोप लगाया था. इस मामले को पुलिस ने 2012 में यह कहते हुए मामला बंद कर दिया कि आरोप झूठे और मनगढ़ंत पाए गए थे.

हाल ही में पीड़िता ने मेघवाल पर गुंडे भेज कर धमकी दिलवाने और नौकरी दिलवाने का लालच देकर मामला वापस लेने का दबाव बनाने के आरोप भी लगाए थे.