पहला पन्ना >राज्य >मध्यप्रदेश Print | Share This  

मप्र भर्ती घोटाले में उमा भारती पर आरोप

मप्र भर्ती घोटाले में उमा भारती पर आरोप

भोपाल. 20 जून 2014

uma bharti


कांग्रेस ने केंद्रीय मंत्री उमा भारती पर भी मध्यप्रदेश में हुए भर्ती घोटाले में सहभागी होने के आरोप लगाए हैं. भोपाल में आयोजित एक प्रेसवार्ता में मध्यप्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता के.के. मिश्रा ने दावा किया कि उनके पास इस बात के सुबूत है कि 15 संविदा शिक्षकों की नियुक्तियां उमा भारती की सिफारिश पर की गई थी. कांग्रेस के इस आरोप पर उमा भारती ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.

कांग्रेस ने उमा भारती के अलावा कैलाश विजयवर्गीय और राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर भी घोटाले में शामिल होने के आरोप लगाए हैं.

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि व्यावसायिक परीक्षा मंडल के जरिए हुई परिवहन निरीक्षक परीक्षा में 19 उम्मीदवार महाराष्ट्र के गोंदिया से चुने गए थे. गोंदिया में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ससुराल है. कांग्रेस ने कहा है कि स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) इस मामले का खुलासा क्यों नहीं कर रही है. कांग्रेस ने नैतिकता के आधार पर शिवराज सिंह चौहान से इस्तीफा देने की मांग की है.

उधर इस महाघोटाले में मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह सरकार पर आंच आती जा रही है. हाई कोर्ट की निगरानी में मामले की जांच कर रही एसटीएफ ने चौहान के पूर्व पीए प्रेम प्रसाद को पूछताछ के लिए बुलाया है.

गौरतलब है कि इससे पहले एसटीएफ ने पूर्व उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा और जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा को संविदा शिक्षक वर्ग-2 और वर्ग-3 के भर्ती फर्जीवाड़े में गिरफ्तार किया था. शर्मा को कोर्ट ने 24 जून तक पुलिस रिमांड में भेज दिया है.