पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

रेल भाड़ा वृद्धि: कांग्रेस ने ट्रेनें रोकीं

रेल भाड़ा वृद्धि: कांग्रेस ने ट्रेनें रोकीं

लखनऊ. 21 जून 2014.

कांग्रेस


यात्री रेल किराये एवं मालभाड़े में हुई भारी वृद्धि के खिलाफ कांग्रेस ने रविवार को उत्तर प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन किया और कई जगहों पर ट्रेनें रोकीं.

कांग्रेसियो ने जनपद संतकबीरनगर में कांग्रेसियों द्वारा बाघ एक्सप्रेस ट्रेन को रोककर विरोध प्रदर्शन किया गया एवं बस्ती में जननायक एक्सप्रेस ट्रेन रोककर जोरदार प्रदर्शन कर रेल किराया एवं माल भाड़ा तुरंत वापस लिए जाने की मांग की गई. इसके अलावा मुरादाबाद में जब सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राजधानी एक्सप्रेस को रोक लिया.

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने इस दौरान रेलवे स्टेशनों पर स्टेशन अधीक्षकों को रेल मंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा गया.

उत्तर प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता हिलाल अहमद ने बताया कि रेल किराये एवं मालभाड़े में की गई वृद्धि का सीधा प्रभाव फल, सब्जी, अनाज, सीमेंट, फर्टिलाइजर इत्यादि पर पड़ेगा, जिससे कि पूरे देश में महंगाई अत्यधिक बढ़ जाएगी.

उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी ने हर मंच पर वादा किया गया था कि उनकी सरकार बनने पर न केवल मूल्यों में वृद्धि रुकेगी, बल्कि खाद्य पदार्थ सस्ते होंगे, लेकिन सत्ता मिलने पर वह इसके ठीक विपरीत कार्य कर रहे हैं.

उन्होंने बताया कि प्रदेश के गाजियाबाद, मेरठ, वाराणसी जनपदों में भी कांग्रेसियों ने रेल किराये एवं माल भाड़े में की गई वृद्धि को वापस लिए जाने के लिए स्टेशन अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा.

श्री अहमद ने बताया कि प्रदेश की राजधानी लखनऊ में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चारबाग रेलवे स्टेशन पहुंचकर वरिष्ठ स्टेशन अधीक्षक, उत्तर रेलवे, चारबाग को रेल किराया एवं माल भाड़ा तुरंत वापस लिए जाने की मांग करते हुए रेल मंत्री सदानंद गौड़ा को संबोधित ज्ञापन सौंपा.