पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

शंकराचार्य के निशाने पर उमा भारती

शंकराचार्य के निशाने पर उमा भारती

नई दिल्ली. 29 जून 2014

uma bharti


केंद्रीय मंत्री उमा भारती द्वारा साईं बाबा की पूजा का समर्थन करने पर द्वारिका-शारदा पीठ के शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने उन्हें निशाने पर लिया है.

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा है कि 'उमा भारती राम भक्त नहीं हैं. वह मुसलमान की पूजा करती हैं. साईं मुसलमान थे.' शंकराचार्य ने कहा कि उमा भारती साईं की पूजा का समर्थन कर दबाब की राजनीति कर रही हैं. उमा ने अपनी भक्ति का स्वरूप बिगाड़ लिया है और साईं भक्ति ही उमा भारती की असफलता की वजह है.

शंकरार्चाय यह भी कहा कि उमा भारती मंत्री हैं और उन्हें जनता ने शासन करने के लिए चुना है इसीलिए उन्हें धार्मिक व्यवस्थाओं में दखल नहीं करना चाहिए.

इस मुद्दे पर बढ़ते विवाद को देखते हुए उमा भारती ने कहा है कि वे संत परंपरा में विश्वास करती हैं और इस विवाद को बढ़ाना नहीं चाहती हैं. दरअसल इससे पहले उमा भारती ने हरिद्वार में साईं पूजा का समर्थन करते हुए कहा था कि वो खुद साईं भक्त हैं और यदि उनके भक्त साईं को भगवान मानते हैं तो इसने क्या गलत है.