पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
 पहला पन्ना > मुद्दा > संस्मरण Print | Send to Friend | Share This 

विज्ञापन में भगत सिंह की गलत तस्वीर

विज्ञापन में भगत सिंह की गलत तस्वीर

नई दिल्ली 23 मार्च 2010


भारत सरकार और पंजाब सरकार द्वारा इस वर्ष शहीद दिवस 23 मार्च को प्रकाशित करवाये गये विज्ञापनों में शहीद भगत सिंह की तस्वीर को पीली पगड़ी पहने दिखाये जाने पर प्रोफेसर चमनलाल ने गहरी आपत्ति की है. भगत सिंह से संबंधित घटनाओं पर शोध करने वाले जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय के प्रोफेसर चमनलाल का कहना है कि जिस तरह से तस्वीरों में भगत सिंह को पीली पगड़ी पहने दिखाया गया है, वह गलत है.


चमनलाल ने कहा कि उन्होंने अब तक जितना भी शोध कार्य किया है, उसमें ऐसा कोई साक्ष्य नहीं मिला है, जिससे यह साबित हो सके कि भगत सिंह ने युवावस्था में कभी पीले रंग की पगड़ी पहनी.

चमनलाल ने कहा है कि भगत सिंह की अब तक चार विभिन्न प्रकार की तस्वीरें सामने आई हैं. जिस तस्वीर में शहीद-ए-आजम सिर पर टोपी पहने दिखाई देते हैं, वह उनकी अंतिम तस्वीर है. उनके अनुसार भगत सिंह ने यह तस्वीर गोरी हुकूमत के पब्लिक सेफ्टी और ट्रेड डिस्प्यूट बिल के विरोध में केंद्रीय असेंबली यानी वर्तमान संसद भवन में बम फेंकने से पहले खिंचवाई थी.

यह फोटो दिल्ली के कश्मीरी गेट स्थित एक स्टूडियो में खींची गई थी. चमनलाल का कहना है कि भारतीय जनमानस और यहां तक कि पाकिस्तान में भी शहीद-ए-आजम का यही फोटो सर्वाधिक लोकप्रिय है. कहना है कि भगत सिंह की यह अंतिम फोटो उस समय की है, जब वह 21 साल के थे. तीन अन्य तस्वीरों में से एक में भगत सिंह लाहौर में पुलिस हिरासत में एक चारपाई पर बैठे दिखाई देते हैं. भगत सिंह की यह तस्वीर मई 1927 में उस समय खींची गई जब वह 20 साल के थे. इस फोटो में भगत सिंह के हाथों में हथकड़ी है और उन्होंने सिर पर पगड़ी नहीं पहन रखी है.

प्रोफेसर चमनलाल अनसार इससे पहले भगत सिंह की एक तस्वीर नेशनल कालेज लाहौर की है, जिसमें वह 17 साल की उम्र में नाटक समूह के साथ कुर्ता-पायजामा और सफेद पगड़ी में दिखाई देते हैं. भगत सिंह की सबसे पहली तस्वीर उस समय की है जब वह 11 साल के थे. यह तस्वीर संभवत: उनके लायलपुर स्थित घर में खींची गई थी.

सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें
 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

kamal sharma (kksharma_1986@rediffmail.com) kanti nagar new delhi

 
 हम लोग सभी का बर्थडे याद रखते हैं पर जो हमारे लीजेंड हैं उनका जन्मदिन कौन याद करेगा? शर्म आनी चाहिए लोगों को. shame on those people those forget our legends.
 
   
[an error occurred while processing this directive]
 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in