पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

आईएनएस कोलकाता नौसेना में शामिल

आईएनएस कोलकाता नौसेना में शामिल

मुंबई. 16 अप्रैल 2014

मोदी


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को स्वदेशी तकनीक से निर्मित देश के सबसे बड़े युद्धपोत 'आईएनएस कोलकाता' को नौसेना को समर्पित करते हुए कहा कि यह रक्षा क्षेत्र में भारत की स्वदेशी क्षमता का प्रतीक है.

यहां नौसेना के अड्डे पर आयोजित समारोह में मोदी ने कहा, "पूरी तरह से भारत में निर्मित आईएनएस कोलकाता रक्षा क्षेत्र में हमारी आत्मनिर्भरता का प्रतीक है. यह देश की तकनीकी क्षमता का बेहतरीन उदाहरण है और यह विश्व को मजबूत संदेश भेजेगा."

इस अवसर पर रक्षा मंत्री अरुण जेटली, महाराष्ट्र के राज्यपाल के. शंकरनायाणन, मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण और नौसेना के प्रमुख एडमिरल आर.के.धोवन भी मौजूद थे. मोदी ने कहा, "हम न सिर्फ युद्धपोत नौसेना को समर्पित कर रहे हैं, बल्कि पूरी दुनिया के सामने भारत की तकनीकी क्षमता और रक्षा योग्यता को पेश कर रहे हैं."

मझगांव डॉक लिमिटेड (एमडीएल) द्वारा निर्मित 6,800 टन वजनी कोलकाता श्रेणी के इस नौसेना के ध्वंसक पोत की डिजाइन भारतीय नौसेना के डिजाइन ब्यूरो ने तैयार की है.

15,000 किलोमीटर दूरी तक अभियान जारी रखने में सक्षम आईएनएस कोलकाता को पिछले महीने नौसेना को सौंपा गया था.

मोदी ने इसे भारत और जनता के लिए ऐतिहासिक दिन करार देते हुए कहा कि यह नौसेना की क्षमता को मजबूती देगा और इस युद्धपोत के कारण कोई भी देश भारत को चुनौती देने का दुस्साहस नहीं करेगा.