पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

रेलमंत्री गौड़ा के बेटे के खिलाफ वारंट

रेलमंत्री गौड़ा के बेटे के खिलाफ वारंट

नई दिल्ली. 27 अगस्त 2014

karthik gowda

बेंगलुरु की एक अदालत ने गुरुवार को नरेंद्र मोदी सरकार में रेल मंत्री डी.वी. सदानंद गौड़ा के बेटे कार्तिक गौड़ा के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. कार्तिक गौड़ा पर एक कन्नड़ फिल्म अभिनेत्री मैत्रेयी ने दुष्कर्म और धोखाधड़ी का अरोप लगाया था.

इस बारे में जानकारी देते हुए पुलिस उपायुक्त (पूर्वी) टी.आर. सुरेश ने कहा, "मैत्रेयी द्वारा लगाए गए आरोपों पर पूछताछ के लिए कार्तिक को बीते 29 अगस्त से कई बार बुलाया गया, लेकिन हमारे जांच दल के समक्ष वह उपस्थिति नहीं हुए. इसके बाद आठवें अतिरिक्त महानगर दंडाधिकारी ने उनके खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी किया."

उल्लेखनीय है कि कन्नड़ अभिनेत्री मैत्रेयी को जब पता चला कि कार्तिक गौड़ा की सगाई किसी अन्य लड़की से हुई है, तब उन्होंने कार्तिक पर दुष्कर्म और धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज कराया था.

इस मामले में कर्तिक गौड़ा ने गत शनिवार को अदालत में अग्रिम जमानत की अर्जी दाखिल की थी लेकिन शहर की सत्र अदालत ने अग्रिम जमानत अर्जी पर सुनवाई गुरुवार तक के लिए स्थगित कर दी थी. इस मामले में कार्तिक पर भादवि की धारा 376 (दुष्कर्म) और 420 (धोखाधड़ी) के तहत मामला दर्ज हुआ था.