पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

शीला दीक्षित के बयान से कांग्रेस में बवाल

शीला दीक्षित के बयान से कांग्रेस में बवाल

नई दिल्ली. 11 सितंबर 2014

शीला दीक्षित


दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेसी नेता शीला दीक्षित के भाजपा के दिल्ली में सरकार बनाने संबंधी बयान पर कांग्रेस में बवाल मच गया है. भाजपा की इस तरफदारी से नाराज कई कांग्रेसी शीला दीक्षित को पार्टी से निष्कासित करने की मांग कर रहे हैं.

गौरतलब है कि शीला दीक्षित ने कहा था कि बीजेपी के पास अगर दिल्ली में सरकार बनाने लायक नंबर हैं तो उसे बना लेनी चाहिए. जहां एक ओर पार्टी ने इसे शीला दीक्षित की निजी राय बताकर खुद को इससे अलग कर लिया है, वहीं कई नेताओं ने शीला को निष्कासित करने की मांग की है.

दिल्ली से कांग्रेस के एक विधायक भीष्म शर्मा ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिख शीला दीक्षित को पार्टी से निष्कासित करने की मांग की है. वहीं आम आदमी पार्टी ने भी शीला के इस बयान की आलोचना की है, जबकि भाजपा ने इसका स्वागत किया है.

भाजपा दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने कहा है कि एक राजनेता होने के नाते शीला दीक्षित की यह एक परिपक्व टिप्पणी है.