पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राज्य >जम्मू Print | Share This  

जम्मू-कश्मीर में महामारी का खतरा

जम्मू-कश्मीर में महामारी का खतरा

श्रीनगर. 14 सितंबर 2014. बीबीसी

कश्मीर


विनाशकारी बाढ़ का सामना कर रहे जम्मू कश्मीर में अब महामारी का ख़तरा पैदा हो गया है. इसी के मद्देनज़र जम्मू कश्मीर सरकार ने केंद्र सरकार से तत्काल दवाइयां और 300 चिकित्साकर्मी भेजने की मांग की है.

कश्मीर के स्वास्थ्य सेवा विभाग ने पूरे राज्य में युद्ध स्तर पर काम शुरू किया है. दवा और चिकित्सा सुविधाओं की आपूर्ति के साथ साथ चिकित्सकों को घाटी में नियुक्त किया जा रहा है.

राज्य स्वास्थ्य सेवा के निदेशक सलीम उर रहमान ने कहा कि घाटी में फैली गंदगी और मरे हुए जानवरों के कारण महामारी फैलने की आशंका है. बताया जा रहा है कि केन्द्र सरकार ने 19 डॉक्टरों की टीम घाटी में भेजी है.

रविवार को बारिश की वजह से जम्मू-कश्मीर में बचाव कार्य भी प्रभावित हुआ और अभी भी हज़ारों लोग बाढ़ में फंसे हुए हैं.

राज्य के बाढ़ राहत कार्य मंत्री श्यामलाल शर्मा के मुताबिक़ घाटी में 37 और जम्मू में 255 लोग मारे गए हैं. केंद्रीय गृह मंत्रालय ने एक लाख 70 हज़ार लोगों को बचाने का दावा किया है.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in