पहला पन्ना >व्यापार > Print | Share This  

लूप मोबाइल सौदे से पीछे हटी भारती एयरटेल

लूप मोबाइल सौदे से पीछे हटी भारती एयरटेल

नई दिल्ली. 5 नवंबर 2014
 

भारती एयरटेल

देश की प्रमुख निजी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी भारती एयरटेल लूप मोबाइल को खरीदने के 700 करोड़ रुपये के सौदे से पीछे हट गई है. यह सौदा यदि पूरा होता तो भारती को मुंबई में लूप के 30 लाख ग्राहक मिल जाते.

भारती एयरटेल और मुबई की कंपनी लूप के बीच इस सौदे के लिए एक डिफिनिटिव समझौता फरवरी 2014 में हुआ था. सूत्र ने कहा कि अन्य डिफिनिटिव समझौते की तरह यह समझौता भी समय सापेक्ष था और इसका प्रभाव 30 अक्टूबर, 2014 को समाप्त हो गया. दोनों पक्षों की रजामंदी से इसे नवीनीकृत किया जा सकता था. लेकिन ऐसा नहीं हुआ.

लूप और भारती ने दूरसंचार विभाग को इस सौदे की मंजूरी के लिए आवेदन किया था. विभाग से अब तक अनुमति नहीं मिली है, क्योंकि लूप मोबाइल और लूप टेलीकॉम पर स्पेक्ट्रम और अन्य मद में सरकार के 808 करोड़ रुपये बकाया है.

लूप को मुंबई में मिला परमिट 29 नवंबर 2014 को समाप्त हो रहा है. अगस्त तक कंपनी के पास करीब 17 लाख ग्राहक रह गए थे.