पहला पन्ना > > Print | Share This  

आडवाणी को पीएम नहीं बनने का अफसोस नहीं

आडवाणी को पीएम नहीं बनने का दुख नहीं 

पटना. 14 नवंबर 2014
 

आडवाणी

भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी ने कहा है कि उन्हें प्रधानमंत्री नहीं बनने का कोई दुख नहीं है.  पटना में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे आडवाणी ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, "प्रधानमंत्री नहीं बनने का मुझे कोई दुख नहीं है. संसद में सभी राजनीतिक दलों द्वारा जो सम्मान मिला है, इस सम्मान से मैं अभिभूत हूं."

नरेन्द्र मोदी सरकार के प्रदर्शन के बारे में उन्होंने कहा कि मोदी सरकार को शासन संभाले अभी काफी कम समय हुआ है और ऐसे में सरकार का अभी आकलन करना उचित नहीं है. उन्होंने हालांकि कहा कि सरकार ने अभी तक कोई ऐसा काम नहीं किया है जिसे 'आपत्तिजनक' कहा जाए.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में शिवसेना के राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) से अलग होकर चुनाव लड़े जाने के विषय में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि भाजपा कभी गठबंधन तोड़ने पर विश्वास नहीं करती है.  उन्होंने कहा, "मैं स्वयं व्यक्तिगत रूप से शिवसेना प्रमुख उद्घव ठाकरे से फोन पर बात कर गठबंधन तोड़ने के फैसले पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया था परंतु शायद उनको मेरे विचार पसंद नहीं आए.

उल्लेखनीय है कि भाजपा के संस्थापक सदस्यों में से एक लालकृष्ण आडवाणी पिछले कुछ सालों से सक्रीय राजनीति से दूर हैं और इन दिनों वे भाजपा के मार्गदर्शक मंडल के सदस्य हैं.