पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >खेल > Print | Share This  

श्रीनिवासन के रुख पर गावस्कर ने उठाए सवाल

श्रीनिवासन के रुख पर गावस्कर ने उठाए सवाल

नई दिल्ली. 18 नवंबर 2014
 

गावस्कर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने स्पॉट फिक्सिंग मामले में आईसीसी चेयरमैन एन श्रीनिवासन की चुप्पी पर सवाल उठाए हैं. गावस्कर ने कहा है कि श्रीनिवासन को यह बताना होगा कि यदि वह जानते थे कि खिलाड़ी फिक्सिंग में लिप्त हैं तो उन्होंने उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की.

पूर्व सलामी बल्लेबाज गावस्कर ने कहा कि, 'रिपोर्ट आई हैं जिनमें कहा गया है कि मुद्गल समिति की रिपोर्ट में पाया गया है कि श्रीनिवासन सट्टेबाजी के बारे में जानते थे लेकिन उन्होंने इसको लेकर कुछ नहीं किया। श्रीनिवासन को जवाब देना चाहिए कि यदि वह जानते थे कि एक खिलाड़ी दोषी है तो फिर उन्होंने कार्रवाई क्यों नहीं की?'

गावस्कर ने यह भी कहा कि मैच फिक्सिंग और सट्टेबाजी के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति होनी चाहिए और यदि कोई खिलाड़ी गलत कामों में भागीदार रहने का दोषी पाया जाता है तो उसे जेल भेजना चाहिए और रेकॉर्डों की किताबों से उससे जुड़ी सामग्री हटा देनी चाहिए। गावस्कर ने स्पॉजट फिक्सिंग मामले में दोषी गुरुनाथ मयप्पान पर कड़ी कार्रवाई कि वकालत की.

गावस्कर के मुताबिक, 'बेटिंग को भारत में लीगल कर दिया जाना चाहिए. इससे चीजें पारदर्शी बनेंगी, अभी इस पर रोक है और यह सही से काम नहीं कर रहा है. बेटिंग से सरकार रेवेन्यू कमाएगी और खुले तौर पर ऐसा होगा.'
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in