पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

शाह की रैली में अलकायदा के बुकलेट

शाह की रैली में अलकायदा के बुकलेट

कोलकाता. 30 नवंबर 2014
 

AMIT SHAH

कोलकाता में आयोजित भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह की चुनावी रैली में आतंकी संगठन अलकायदा के बुकलेट मिले हैं. इस मामले में पुलिस ने दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया है जिनसे पूछताछ की जा रही है. भाजपा ने इसके लिए ममता सरकार को जिम्मेदार बताते हुए उस पर हमला बोला है.

पश्चिम बंगाल के बीजेपी अध्यक्ष राहुल सिन्हा ने कहा, 'इसी से पता चलता है कि ममता राज में आतंकियों को हौसले किस कदर बुलंद हैं. टीएमसी बंगाल में आतंकियों को पनाह दे रही है.'

इससे पहले कोलकाता में इस चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस के नेताओं की संलिप्तता के कारण करोड़ों रुपये के शारदा चिटफंड घोटाले का विस्तार हुआ.

शाह ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को चुनौती दी कि वह सीबीआई द्वारा गिरफ्तार नेताओं को बेगुनाह साबित करके दिखाएं. शाह ने कहा कि शारदा घोटाले की धनराशि दो अक्टूबर के बर्दवान विस्फोट में इस्तेमाल की गई, जिसमें जमात-उल-मुजाहिदीन बांग्लादेश संलिप्त था.

शाह ने सवाल किया, "ममता दीदी कहती हैं कि सीबीआई ने तृणमूल नेताओं को फंसाया है. वे फंसाए गए हैं या नहीं, इसका फैसला न्यायालय को करना है. लेकिन मैं दीदी को चुनौती देता हूं कि क्या आपके पास यह कहने का साहस है कि आपकी पार्टी के गिरफ्तार नेता बेगुनाह हैं?"

तृणमूल के निलंबित राज्यसभा सदस्य कुणाल घोष को पुलिस ने गिरफ्तार किया था, और इसके अलावा तृणमूल सांसद सृंजय बोस और पार्टी नेता व पूर्व आईपीएस अधिकारी रजत मजूमदार को सीबीआई ने घोटाले में कथित संलिप्तता के लिए गिरफ्तार किए हैं.