पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

थरूर ने पूर्वाग्रह मुक्त जाँच की मांग की

थरूर ने पूर्वाग्रह मुक्त जाँच की मांग की

नई दिल्ली. 9 जनवरी 2014
 

शशि थरूर

कांग्रेसी नेता शशि थरूर ने मांग की है कि उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच पेशेवर ढंग से हो, जो राजनीतिक दबाव तथा पूर्वाग्रह से मुक्त हो. पूर्व केंद्रीय मंत्री थरूर ने दिल्ली में एक निजी आयुर्वेदिक केंद्र में संवाददाताओं से कहा, "मैं अपनी पत्नी को खो चुका हूं और मुझे शांति से शोक मनाने की भी अनुमति नहीं है."

उन्होंने कहा, "मैं पूरी तरह दंग रह गया, क्योंकि हमारे परिवार में ऐसा कोई कारण नहीं था, जिससे माना जाए कि उसकी मौत के पीछे कोई राज हो सकता है."
थरूर ने कहा, "इसलिए यह बेहद जरूरी है कि इसे (जांच) पेशेवर ढंग से अंजाम दिया जाए, बिना किसी पूर्वाग्रह या राजनीतिक दबाव के."

थरूर ने इस मामले में अपनी चुप्पी पर कहा, "मेरी चुप्पी का यही एक कारण है कि दिल्ली पुलिस मामले की जांच कर रही है, इसलिए मेरा फर्ज बनता है कि मैं उसमें कोई अड़ंगा न लगाऊं."

गौरतलब है कि सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी को दिल्ली के एक होटल के एक कमरे में रहस्यमय परिस्थितियों में मृत पाई गई थीं. अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की चिकित्सकीय रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने इस महीने की शुरुआत में हत्या का एक मामला दर्ज किया है.

पुलिस ने गुरुवार को थरूर के घरेलू सहायक नारायण सिंह से पूछताछ की. इसके अलावा, थरूर के निजी सहायक तथा एक पारिवारिक मित्र सहित 10 लोगों से पूछताछ की योजना बना रही है.