पहला पन्ना > > Print | Share This  

व्यापम घोटाला: 101 लोगों के खिलाफ एफआईआर

व्यापम घोटाला: 101 लोगों के खिलाफ एफआईआर

भोपाल. 24 फरवरी 2015
 

व्यापम

मध्यप्रदेश में व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) द्वारा आयोजित वनरक्षक भर्ती परीक्षा में विशेष कार्यदल (एसटीएफ) ने राज्यपाल रामरनेरश यादव सहित 101 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है. मंगलवार को पूरे दिन व्यापमं घोटाले पर कांग्रेस का विधानसभा से सड़क तक पर प्रदर्शनों का दौर जारी रहा, वहीं सत्तापक्ष ने कांग्रेस पर संविधान का गला घोंटने और सनसनी फैलाने का आरोप लगाया.

एसटीएफ के अतिरिक्त महानिरीक्षक आशीष खरे ने मीडिया को बताया कि वनरक्षक भर्ती के मामले में 101 लोगों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है. इसमें 88 परीक्षार्थी और 13 मध्यस्थ व अन्य लोग शामिल हैं. इनके खिलाफ सूचना प्रौद्योगिकी, भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है.

खरे ने कहा कि यह मामला उच्च न्यायालय में विचाराधीन है, लिहाजा वे यह नहीं बता सकते कि इस प्राथमिकी में किसका नाम है. उन्होंने राज्यपाल का नाम भी नहीं लिया. मगर इससे पहले दोपहर में खरे से मीडिया ने जब पूछा था कि क्या राज्यपाल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज हुई है तो उनका कहना था कि प्रक्रिया जारी है.

सूत्रों के अनुसार, व्यापमं द्वारा आयोजित परीक्षा में राजभवन से दो युवकों महेश व सतीश की वनरक्षक पद पर भर्ती के लिए एक सिफारिशी पत्र लिखा गया था. ये दोनों युवक उत्तर प्रदेश के निवासी बताए जाते हैं. इस मामले में एसटीएफ ने मंगलवार की देर शाम राज्यपाल यादव के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है. एसटीएफ ने कुल 101 लोगांे पर भी प्रकरण दर्ज किया है. इसमें 88 परीक्षार्थी व 11 अन्य लोग शामिल हैं.

एसटीएफ ने राज्यपाल के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत प्रकरण दर्ज किया है. उनके बेटे शैलेश यादव के खिलाफ पहले ही प्रकरण दर्ज किया जा चुका है.