पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

सुविधाओं के लिए पाक जाएं मुस्लिम: शिवसेना

सुविधाओं के लिए पाक जाएं मुस्लिम: शिवसेना

मुंबई. 3 मार्च 2015
 

SHIVSENA

शिवसेना ने मुसलमानों को लेकर एक विवादास्पद बयान दिया है. पार्टी ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा है कि भारत में रहने वाले मुसलमान यदि विशेष सुविधाएं चाहते हैं तो उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए. सामना के लेख में लिखा है, "यदि वे (मुसलमान) इस देश से कुछ चाहते हैं, तो पहले भारत को अपनी मातृभूमि स्वीकार करें और 'वंदे मातरम' बोलें."

माना जा रहा है कि 'सामना' में प्रकाशित लेख एक मार्च को ऑल इंडिया इत्तेहादुल मुसलमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के नागपुर में दिए गए भाषण की प्रतिक्रिया स्वरूप आया है, जहां उन्होंने महाराष्ट्र में मराठियों की तरह ही मुसलमानों को भी आरक्षण देने की मांग की थी.

शिवसेना ने ओवैसी की बात पर रोष जताते हुए कहा कि आरक्षण की नीति सामाजिक मानदंडों पर आधारित होनी चाहिए, न कि धर्म के तर्ज पर. शिवसेना ने कहा, "गरीब मुसलमानों को आरक्षण दिया जाना चाहिए. इसलिए नहीं कि वे मुसलमान हैं, बल्कि इसलिए कि वे भारत का नागरिक है."

पार्टी ने सभी लोगों से, खासकर हिन्दुओं और मुसलमानों से यह विचारधारा को अपनाने की अपील करते हुए कहा कि इससे ही वोट बैंक एवं आरक्षण की राजनीतिक खत्म हो सकती है और देश की प्रगति में मदद मिल सकती है.

'सामना' में प्रकाशित लेख में कहा गया कि मुसलमानों को समान नागरिक संहिता स्वीकार करनी होगी, परिवार नियोजन अपनाना होगा और जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 की मांग छोड़नी होगी.