पहला पन्ना > > Print | Share This  

जनता एक्सप्रेस रेल हादसे में 31 की मौत

जनता एक्सप्रेस रेल हादसे में 31 की मौत

रायबरेली. 20 मार्च 2015
 

train accident

रायबरेली के बछरावां रेलवे स्टेशन के पास देहरादून से वाराणसी जा रही जनता एक्सप्रेस (14266) के शुक्रवार को दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से कम से कम 31 लोगों की मौत हो गई है जबकि 150 से अधिक लोग घायल हो गए हैं. घायलों में से 47 की हालत बेहद नाजुक बताई जा रही है.

ये हादसा शुक्रवार सुबह लगभग 9.30 बजे हुआ जब गाड़ी के चार डिब्बे पटरी से उतर गए. एक अधिकारी ने बताया कि रेलगाड़ी के चालक ने सिग्नल तोड़ दिया और उसे सैंड बम्प पर चढ़ा दिया, जिस कारण गाड़ी पटरी से उतर गई. पटरी से उतरे दो यात्री डिब्बों में एक स्लीपर श्रेणी का और एक साधारण श्रेणी का था.

एक अन्य अधिकारी ने बताया, "रेलगाड़ी को बछरावां रेलवे स्टेशन पर रुकना था लेकिन यह नहीं रुकी. जब चालक को अपनी गलती का पता चला तो उसने आपातकालीन ब्रेक लगाया, जिस कारण रेलगाड़ी पटरी से नीचे उतर गई."

पटरी से उतरते ही चारों डिब्बे पिचक गए. मृतकों और घायलों को गैस कटर से बोगियों को काटकर निकाला जा रहा है. राहत इंतजामों का जायजा लेने पहुंचे जीएम ए.के. पूठिया के मुताबिक, घायलों का लखनऊ और रायबरेली के अस्पतालों में इलाज चल रहा है. मरने वालों की संख्या में और इजाफा होने का अंदेशा जताया गया है.

रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने मृतकों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है. वहीं रेलवे ने इस मामले की जांच के आदेश दे दिए हैं. रेल मंत्रालय ने इस हादसे में मारे गए लोगों के परिवारों को दो-दो लाख रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है. साथ ही गंभीर रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपये और मामूली रूप से घायलों को 20 हजार रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है.

उत्तर रेलवे के अधिकारियों ने कहा कि इस हादसे में पृथम दृष्टया चालक की गलती नजर आ रही है. इस दुर्घटना से मुख्य रेलमार्ग नई दिल्ली-लखनऊ-वाराणसी पर रेल सेवा बाधित हो गई थीं.

उत्तर प्रदेश सरकार ने भी हादसे में मरने वालों के परिवार को दो-दो लाख और घायलों को 50 हजार रुपये की मदद देने का ऐलान किया है. वहीं, रेलवे की ओर से मरने वाले यात्रियों के परिजनों को एक-एक लाख रुपये देने की घोषणा की गई है.