पहला पन्ना >अंतराष्ट्रीय > Print | Share This  

नेपाल में फिर भूकंप के झटके

नेपाल में फिर भूकंप के झटके

काठमांडू. 26 अप्रैल 2015
 

भूकंप

नेपाल अभी शनिवार को आए भीषण जलजले से उबर नहीं पाया था कि रविवार को फिर यहां पर भूकंप के झटके महसूस किए गए. इन झटकों की रिएक्टर पैमाने पर तीव्रता 6.9 मापी गई. बचाव दल शनिवार को आए भूकंप में फंसे लोगों को बचाने की कोशिशों में लगे हुए हैं. नेपाल में शनिवार को आए भूकंप में अब तक 2,000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है.

काठमांडू घाटी में रविवार अपराह्न 12.54 बजे आए इस भूकंप से हजारों लोग भयभीत हो गए और अपने घरों से बाहर निकल आए. जबकि नेपाल अभी शनिवार की भीषण तबाही से उबरने के प्रयासों में लगा हुआ है.

रविवार को आए भीषण भूकंप का केंद्र दक्षिणी कोडारी से 17 किलोमीटर दूर स्थित है. यह स्थान राजधानी काठमांडू से 110 किलोमीटर दूर है. रविवार को आए भूकंप का केंद्र जमीन से 10 किलोमीटर नीचे था, जबकि शनिवार को आए भूकंप का केंद्र 15 किलोमीटर नीचे था.

नेपाल में शनिवार को आए भूकंप के बाद काठमांडू घाटी और अन्य जिलों में सैनिक, पुलिसकर्मी और अन्य सरकारी एजेंसियों के सभी कर्मचारी पूरे जोर-शोर से राहत एवं बचाव कार्य में लगे हुए हैं. भारत और कई अन्य देशों ने नेपाल के लिए तत्काल सहायता भेजी है. इस बीच रविवार को दोबारा से जलजला उठा.

नेपाल के गृह मंत्रालय का कहना है कि भूकंप के 50 से अधिक झटके महसूस किए जा चुके हैं. राजधानी काठमांडू में मौजूद आईएएनएस संवाददाता ने कहा, "झटके अभी तक आ रहे हैं."

अतिरिक्त नुकसान के डर और परेशानी के बीच काठमांडू में रहने वाले सैंकड़ों लोगों ने सड़कों पर रात बिताई. धर्मादा संगठन और सरकारी एजेंसियां बेघरों को भोजन-पानी उपलब्ध करा रही हैं. इस आपदा में 4,600 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.