पहला पन्ना >अंतराष्ट्रीय > Print | Share This  

बांग्लादेशी क्रिकेटर रुबेल हुसैन को जमानत

मलाला के हमलावरों को कैद

इसालामाबाद. 30 अप्रैल 2015
 

मलाला

पाकिस्तान के खैबर-पख्तूनख्वा प्रांत के स्वात जिले में एक आतंकवाद रोधी अदालत (एटीसी) ने गुरुवार को मानवाधिकार कार्यकर्ता मलाला यूसुफजई पर हमले के मामले में 10 व्यक्तियों को दोषी करार देते हुए 25 साल कैद की सजा सुनाई है.

डॉन ऑनलाइन की रपट के मुताबिक सजा दिए जाने वालों की पहचान बिलाल, शौकत, सलमान, जफर इकबाल, इसरारउल्लाह, जफर, अली, इरफान, इजहार, अदनान और इकराम के रूप में हुई है.

मलाला यूसुफजई पर 2012 में तहरीक-ए-तालिबान के बंदूकधारियों ने हमला किया था. उस दौरान बच्चों की शिक्षा के लिए अभियान चला रही थी. मलाला पर जब बंदूकधारियों ने हमला किया था उस दौरान वह 14 साल की थी और स्कूल बस में सवार होकर जा रही थी. पिछले साल ही भारत के कैलाश सत्यार्थी के साथ मलाला यूसुफजई को शांति के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

इससे पहले पाकिस्तानी सेना ने सितंबर 2014 में दावा किया था कि मलाला यूसुफजई पर हमले में शामिल 10 तालिबान आतंकवादियों को गिरफ्तार कर लिया गया है. इसके साथ ही बताया कि उन पर आतंकवाद रोधी कानूनों के तहत मुकदमा चलेगा.