पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राजनीति > Print | Share This  

गोधरा के बदले मिले मोदी: सिंघल

गोधरा के बदले मिले मोदी: सिंघल

लखनऊ. 10 जून 2015
 

राहुल गांधी

विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) के नेता अशोक सिंघल ने इस्लाम धर्म को मानने वालों पर जमकर निशाना साधते हुए कहा है कि गोधरा में जिहादी इस्लाम ने कार सेवकों को जिंदा जला दिया था और उसी का नतीजा है कि नरेंद्र मोदी जैसा व्यक्ति मिला है.

सिंघल ने कहा, "आज दिल्ली की सत्ता उन लोगों के पास है, जो मानते हैं कि अयोध्या में बाबरी मस्जिद नहीं, बल्कि राम मंदिर था. जिहादी आक्रमणकर्ताओं ने जबरन लोगों को इस्लाम कबूल करवाया. जिन्होंने इस्लाम कबूल नहीं किया, उन्हें दलित बना दिया गया. इससे हिंदू समाज को बहुत नुकसान हुआ है."

अशोक सिंघल ने ये बातें बुधवार को लखनऊ में महाराजा सुहेल देव की जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में कही. इस दौरान गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद थे. उन्होंने कहा कि देश का इस्लाम जिहादी है. जिहादी इस्लाम दुनिया से खत्म हो जाएगा, जबकि शांतिपूर्ण इस्लाम बना रहेगा. ये जिहादी इस्लाम दुनिया में शांति नहीं रखना चाहता है, जबकि दुनिया चाहती है कि हम शांति से रहें.

विहिप नेता ने कहा कि नए-नए जिहादी संगठन खड़े हो रहे हैं. सीरिया से चला आईएसआईएस कहर बरपा रहा है. यह सारी दुनिया देख रही है.
राम मंदिर के सवाल पर सिंघल ने कहा कि जब भगवान चाहेंगे, तब राम मंदिर बन जाएगा. उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि राममंदिर को लेकर इतनी जल्दबाजी क्यों है.

विहिप नेता ने इस्लाम को मानने वालों पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि देश में इस्लाम अनुयायी जिहादी हैं. ये जिहादी दुनिया में अमन-चैन नहीं चाहते हैं. राजा विक्रमादित्य ने जो राम मंदिर बनवाया था, उसे मुगलों ने तोड़ दिया. 800 साल बाद नरेंद्र मोदी की अगुवाई में दिल्ली की गद्दी पर हिंदुओं ने सत्ता पाई है.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in