पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

>पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम का निधन

पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम का निधन

शिलांग. 27 जुलाई 2015
 

डॉ. कलाम

पूर्व राष्ट्रपति और मशहूर वैज्ञानिक डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम का सोमवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया.

83 साल के अब्दुल कलाम एक लेक्चर के लिए भारतीय प्रबंधन संस्थान (आईआईएम) शिलांग में थे जहां उन्हें दिल का दौरा पड़ गया. इसके बाद उन्हें बेथानी अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था. डॉक्टरों की भरसक कोशिशों के बाद भी उन्हें बचाया नहीं जा सकता.

बेथानी अस्पताल के निदेशक जॉन सैलो ने कहा, "पूर्व राष्ट्रपति लगभग मृत अवस्था में हमारे अस्पताल लाए गए. हम उन्हें होश में लाने का प्रयास करते रहे, लेकिन कामयाब न हो सके."

सैलो ने कहा, "उन्हें गहन चिकित्सा कक्ष (आइ) इकाई में रखा गया. हमें लगता है कि भाषण देते समय मिसाइल मैन को हृदयाघात (हार्टअटैक) हुआ."

मिसाइल मैन के नाम से मशहूर डॉ. कलाम का जन्म 15 अक्टूबर 1931 को धनुषकोडी गाँव (रामेश्वरम, तमिलनाडु) में एक मध्यमवर्ग मुस्लिम परिवार में हुआ था.

अंतरिक्ष विज्ञान में स्नातक करने के बाद 1962 में वे 'भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन' (इसरो) में आये और उसके बाद उन्होंने इसरो के कई महत्वपूर्व प्रोजेक्टों में योगदान दिया. डॉ. कलाम भारत सरकार के वैज्ञानिक सलाहकार भी रहे.  डॉ. कलाम को 1981 में पद्म भूषण और 1997 में भारत रत्न पुरस्कार प्रदान किया गया था.