पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >राष्ट्र > Print | Share This  

व्यापम: सीबीआई ने 587 को आरोपी बनाया

व्यापम: सीबीआई ने 587 को आरोपी बनाया

नई दिल्ली. 1 अगस्त 2015
 

सीबीआई

मध्य प्रदेश के व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) घोटाले की जांच कर रहे केद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने वर्ष 2012 में हुई पीएमटी में गड़बड़ी के मामले में प्राथमिकी दर्ज कर 587 लोगों को आरोपी बनाया गया है. वहीं एक अस्वाभाविक मौत को भी प्रारंभिक जांच (पीई) के दायरे में लिया है.

सीबीआई के आधिकारिक सूत्रों के अनुसार, वर्ष 2012 में हुई पीएमटी में रोल नंबर आवंटन, ओएमआर शीट और अन्य गड़बड़ियों में लिप्त व्यापमं के परीक्षा नियंत्रक पकज त्रिवेदी, कंप्यूटर एनालिस्ट नितिन महेंद्रा, तत्कालीन तकनीकी शिक्षा मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा के ओएसडी ओ पी शुक्ला सहित 587 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी, भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम, परीक्षा मान्यता अधिनियम, सहित विभिन्न भारतीय दंड विधान की धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है. इस मामले में एसटीएफ 30 अक्टूवर 2013 को भोपाल में प्रकरण दर्ज किया था.

वहीं सीबीआई ने पशु चिकित्सा महाविद्यालय महू इंदौर के छात्र विकास सिंह की अस्वाभाविक मौत को प्राथमिक जांच में लिया है. उसकी मौत की वजह व्यापमं या कुछ और थी यह सीबीआई जांच करेगी. विकास के खिलाफ तीन प्राथमिकी दर्ज थी.

सीबीआई ने सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश पर व्यापमं घोटाले की जांच नौ जुलाई को शुरू की थी. सीबीआई अब तक 19 प्राथमिकी दर्ज कर चुकी है.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in