पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >व्यापार > Print | Share This  

शेयर बाज़ारों में रिकॉर्ड गिरावट

शेयर बाज़ारों में रिकॉर्ड गिरावट

मुंबई. 24 अगस्त 2015
 

विनोद मेहता

देश के शेयर बाजारों में सोमवार को भारी गिरावट रही. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 1,624.51 अंकों की गिरावट के साथ 25,741.56 पर और निफ्टी 490.95 अंकों की गिरावट के साथ 7,809.00 पर बंद हुआ.

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 635.67 अंकों की गिरावट के साथ 26,730.40 पर खुला और 1,624.51 अंकों या 5.94 फीसदी गिरावट के साथ 25,741.56 पर बंद हुआ. दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 26,730.40 के ऊपरी और 25,624.72 के निचले स्तर को छुआ.

कमजोर वैश्विक रुझानों और शंघाई स्टॉक एक्सचेंज में आठ फीसदी से अधिक गिरावट तथा न्यूनतम वैकल्पिक कर (मैट) पर सरकार के रुख से संबंधित चिंता के कारण सेंसेक्स में इतनी बड़ी गिरावट रही. यह सेंसेक्स की अब तक की सबसे बड़ी गिरावट है. इससे पहले 21 जनवरी 2008 को सेंसेक्स 7.4 फीसदी या 1,408 अंकों की गिरावट के साथ बंद हुआ था.

सेंसेक्स के सभी 30 शेयरों में गिरावट रही. वेदांता (15.30 फीसदी), टाटा स्टील (13.11 फीसदी), गेल (12.78 फीसदी), ओएनजीसी (11.17 फीसदी) और बजाज ऑटो (9.09 फीसदी) में सर्वाधिक गिरावट रही.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 244.00 अंकों की गिरावट के साथ 8,055.95 पर खुला और 490.95 अंकों या 5.92 फीसदी गिरावट के साथ 7,809.00 पर बंद हुआ. दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 8,060.05 के ऊपरी और 7,769.40 के निचले स्तर को छुआ.

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी भारी गिरावट रही. मिडकैप 861.91 अंकों की गिरावट के साथ 1,0354.74 पर और स्मॉलकैप 1,022.54 अंकों की गिरावट के साथ 10,587.90 पर बंद हुआ.

बीएसई के सभी 12 सेक्टरों में गिरावट रही. रियल्टी (10.93), तेल एवं गैस (9.20 फीसदी), बिजली (8.12 फीसदी), उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु (7.23 फीसदी) और धातु (7.18 फीसदी) में सर्वाधिक गिरावट रही.

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा. कुल 301 शेयरों में तेजी और 2,489 में गिरावट रही, जबकि 54 शेयरों के भाव में कोई बदलाव नहीं हुआ.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in