पहला पन्ना > मुद्दा > मध्यप्रदेश Print | Send to Friend | Share This 

महेश्वर बांध निर्माण पर रोक

महेश्वर बांध निर्माण पर रोक

भोपाल. 24 अप्रैल 2010


पर्यावरण मंत्रालय ने खरगौन के महेश्वर में 400 मेगावॉट क्षमता बिजली उत्पादन के लिये बनाये जा रहे बांध के निर्माण पर रोक लगा दी है. नर्मदा बचाओ आंदोलन द्वारा इस मुद्दे पर आंदोलन के बाद पर्यावरण मंत्रालय ने यह निर्णय लिया है. इस बांध से विस्थापित परिवार पिछले 2 दिनों से दिल्ली में धरना-प्रदर्शन कर रहा था.

नर्मदा बचाओ आंदोलन के आलोक अग्रवाल के अनुसार 1986 में केन्द्र एवं राज्य से मंजूर होने वाली महेश्वर परियोजना को शुरू में लाभकारी माना गया था और उसकी लागत महज 1673 करोड़ रूपए ही थी जो अब बढ़कर ढाई हजार करोड़ से भी ज्यादा हो गई है. सरकार ने बाद में 1992 में इस परियोजना को एस कुमार्स नामक व्यावसायिक घराने को सौंप दिया. निजी क्षेत्र को सौंपते समय प्रभावित किसानों के पुनर्वास की जो बंधनकारी शर्ते लगाई गई थी, उन पर भी अमल नहीं किया गया है.

एक तरफ जहां बांध का 80 प्रतिशत काम पूरा हो गया है, वहीं पुनर्वास का काम 30 प्रतिशत भी नहीं हुआ. उन्होंने कहा कि जब तक परियोजना से प्रभावित 10 हजार परिवारों का उचित पुनर्वास नहीं होता तब तक के लिए परियोजना का काम रोके जाने की मांग की गयी थी. जिस पर सुनवाई करते हुए पर्यावरण मंत्रालय ने बांध निर्माण पर रोक लगा दी है.