पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना > > Print | Share This  

केजरीवाल ने खाद्य मंत्री को बर्खास्त किया

केजरीवाल ने खाद्य मंत्री को बर्खास्त किया

नई दिल्ली. 8 अक्टूबर 2015
 

अरविंद केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने खाद्य मंत्री असीम अहमद खान को एक बिल्डर से कथित तौर पर छह लाख रुपये रिश्वत मांगने के आरोपों में शुक्रवार को बर्खास्त कर दिया. केजरीवाल ने यहां अचानक बुलाए गए एक संवाददाता सम्मेलन में बर्खास्तगी की घोषणा की.

इस मौके पर उन्होंने खान और बिल्डर और एक बिचौलिए के बीच हुई बातचीत का टेप भी बजाया. केजरीवाल ने कहा कि वह भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेंगे. उन्होंने यह भी कहा कि मामला केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपा जा रहा है. संवाददाता सम्मेलन में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, आधिकारिक प्रवक्ता नागेंद्र शर्मा भी उपस्थित थे.

आम आदमी पार्टी (आप) के नेता ने कहा, "हम कोई भी भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं करेंगे, चाहे इसमें हमारा मंत्री या विधायक ही क्यों न शामिल हो."

केजरीवाल ने कहा कि यदि वह स्वयं भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाएं तो सिसोदिया को चाहिए कि वह (सिसोदिया) उन्हें (मुख्यमंत्री) किसी भी हाल में न छोड़ें. उन्होंने कहा, "यह निर्णय लेने का मुझे दुख है. जबतक सीबीआई जांच पूरी नहीं हो जाती, तबतक खान मंत्री नहीं रहेंगे."

केजरीवाल ने कहा कि गुरुवार को उन्हें एक ऑडियो टेप दिया गया, जिसमें यह शिकायत साबित होती है कि मंत्री ने पुरानी दिल्ली के अपने विधानसभा क्षेत्र मटिया महल में अवैध निर्माण की अनुमति देने के लिए बिल्डर से छह लाख रुपये मांगे थे.

केजरीवाल ने कहा, "प्रथम दृष्टया यह गंभीर मामला लगता है.. हम इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते."

केजरीवाल ने जोर देकर कहा कि यह आप सरकार का एक निर्णय है, और मीडिया ने इस घटना का खुलासा नहीं किया है. उन्होंने यह भी कहा कि खाद्य मंत्रालय अब आप विधायक इमरान हुसैन को सौंपा जाएगा.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in