पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

भीड़ के ढांचे का सच खुल चुका

रिकॉर्ड फसल लेकिन किसान बेहाल

मधुमेह की महामारी कीटनाशक के कारण?

अंतिम सांसे लेता वामपंथ

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

भीड़ के ढांचे का सच खुल चुका

रिकॉर्ड फसल लेकिन किसान बेहाल

अंतिम सांसे लेता वामपंथ

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >अंतराष्ट्रीय > Print | Share This  

सेना ट्रेनिंग कैंप में विस्फोट, 14 जवान घायल

सीरिया से भारी संख्या में पलायन

संयुक्त राष्ट्र. 10 अक्टूबर 2015
 

aap

सरकारी बलों और विद्रोहियों के बीच बढ़े संघर्ष के बीच 40,000 लोग उत्तरी सीरिया के शहरों से पलायन कर गए हैं. संयुक्त राष्ट्र राहत एजेंसी की एक रपट के हवाले से संयुक्त राष्ट्र के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र मानवीय समन्वयन कार्यालय (ओसीएचए) ने कहा है कि चार से नौ अक्टूबर के बीच लगभग 7,000 परिवारों के 40,000 लोग सीरिया के उत्तरी ग्रामीण हामा के शहरों को छोड़कर चले गए.

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने मंगलवार को कहा, "कम से कम 2,000 परिवारों को खुले स्थानों पर एकत्रित होना पड़ा है और लगभग 200 परिवारों ने अन्य परिवारों में या किराए के मकानों में शरण ली है."

प्रवक्ता के मुताबिक, "काफी लोगों ने लड़ाई समाप्त होने पर लौटने की उम्मीद में अपने घरों के नजदीक ही रहने का फैसला किया है."

प्रवक्ता ने कहा, "आंतरिक रूप से विस्थापित लोगों (आईडीपी) के अधिकांश शिविर भर चुके हैं, जिनमें और आने वालों के लिए जगह नहीं बची है."

सीरिया के आर्मी चीफ ऑफ स्टाफ, जनरल अब्दुल्ला अयूब ने पिछले सप्ताह एक बयान में कहा था, "सीरियाई सेना ने आतंकियों के ठिकाने नष्ट करने और आतंकवाद ग्रस्त इलाकों को खाली कराने के लिए व्यापक आक्रमण शुरू किया है."

रूसी युद्धक विमानों की मदद से थल सेना ने पिछले बुधवार को हमला किया था, जिसके बाद सोमवार को सेना ने हामा प्रांत में विद्रोहियों के कब्जे वाले 70 किमी हिस्से को पुन: अपने कब्जे में कर लिया.

रपट में कहा गया है कि फिर से कब्जे में किया लगभग 50 किमी क्षेत्र 'जैश अल फतह समूह' के कब्जे में था और इसके अतिरिक्त 20 किमी क्षेत्र अन्य विद्रोही समूहों के कब्जे में था.

हामा संघर्ष पहला मौका है, जब सीरियाई सेना ने रूसी हवाई मदद के तहत व्यापक आक्रमण किया है.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in