पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना > > Print | Share This  

माकपा ने फरीदाबाद आरोपियों की गिरफ्तारी मांगी

माकपा ने फरीदाबाद आरोपियों की गिरफ्तारी मांगी

फरीदाबाद. 21 अक्टूबर 2015
 

vrinda karat

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने हरियाणा के फरीदाबाद जिले के सुनपेड़ गांव में दलित परिवार के बच्चों को जिंदा जलाकर मारने वाले हत्यारों की तुरंत गिरफ्तारी की मांग की है.

मासूम बच्चों के पीड़ित परिवार से मुलाकात करने पहुँचा माकपा की वरिष्ठ नेता वृंदा करात ने कहा, "यह प्रशासन की विफलता है, जिसने दलित परिवार की शिकायत को नजरअंदाज किया और जिसके कारण दो मासूम बच्चों को जलाकर मार दिया गया."

गौरतलब है कि फरीदाबाद के सुनपेड़ गांव के निवासी जितेंद्र कुमार की नौ महीने की बेटी और दो साल के बेटे को ऊंजी जाति के लोगों ने जिंदा जलाकर मार डाला. मृतक बच्चों की मां और जितेंद्र की पत्नी रेखा अस्पताल में जिंदगी व मौत की जंग लड़ रही है.

वृंदा से जितेंद्र ने कहा, "मेरे बच्चों और मेरी पत्नी का क्या अपराध था?"

पीड़ित बच्चों के पिता ने आरोप लगाया कि हत्यारे रात में आए और उन्होंने खुली खिड़की के जरिए घर में पेट्रोल फेंका और फिर आग लगा दी. इस हादसे में जितेंद्र के दोनों बच्चों की मौत हो गई, जबकि पत्नी रेखा गंभीर रूप से घायल है.

जितेंद्र का कहा, "मुझे न्याय चाहिए, लेकिन प्रशासन का रवैया हमारे खिलाफ पक्षपाती है."

करात ने हरियाणा सरकार पर निशाना साधते हुए दलितों की शिकायतों को महत्व न देने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, "हादसे के 36 घंटे बाद भी मुख्यमंत्री ने गांव का दौरा करने के बारे में नहीं सोचा और न ही उन्होंने किसी वरिष्ठ मंत्री को गांव भेजा."

अधिकारियों ने प्रतिनिधिमंडल को बताया कि शिकायत में दर्ज 11 में से केवल चार लोगों को ही पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

करात ने हरियाणा सरकार से सभी आरोपियों को तुरंत गिरफ्तार करने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की. इसके साथ ही उन्होंने पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा देने के लिए भी कहा.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in