पहला पन्ना > > Print | Share This  

नूडल्स मामले में नियम नहीं तोड़ा: रामदेव

नूडल्स मामले में नियम नहीं तोड़ा: रामदेव

कोलकाता. 21 नवंबर 2015.
 

रामदेव

बाबा रामदेव ने दावा किया है कि नए उत्पाद आटा नूडल को लांच करने में पतंजलि आयुर्वेद ने भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन नहीं किया है तथा पतंजलि आयुर्वेद के पास नूडल के उत्पादन एवं बिक्री का लाइसेंस है.

 

उन्होंने यह भी कहा है कि पतंजलि आयुर्वेद को केंद्रीय खाद्य नियामक 'एफएसएसएआई' की ओर से कोई नोटिस नहीं मिला है और जैसे ही उन्हें ऐसा कोई नोटिस मिलता है, वह तुरंत अपनी प्रतिक्रिया देंगे.

गौरतलब है कि ने भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने कथित तौर पर पतंजलि आयुर्वेद को कारण बताओ नोटिस जारी कर बिना उनकी अनुमति के आटा नूडल की बिक्री पर अपनी सफाई देने के लिए कहा है.

एक कार्यक्रम में आए रामदेव ने कार्यक्रम से इतर पत्रकारों से कहा, "पतंजलि ने एफएसएसएआई के किसी भी नियम का उल्लंघन नहीं किया है. पतंजलि ने कुछ भी अवैध या गैरकानूनी काम नहीं किया है. पतंजलि ने नूडल से संबंधित एफएसएसएआई के सभी नियमों का पालन किया है."

रामदेव ने कहा, "अब तक हमें कोई नोटिस नहीं मिला है. हमें जब भी नोटिस मिलेगा, हम उसका कानून सम्मत जवाब देंगे. हम जल्द से जल्द नोटिस पर अपनी प्रतिक्रिया देंगे."