पहला पन्ना > > Print | Share This  

किसानों की आय दुगनी नहीं हो सकती: मनमोहन

किसानों की आय दुगनी नहीं हो सकती: मनमोहन

नई दिल्ली. 29 फरवरी 2016
 

मनमोहन सिंह

पूर्व प्रधानमंत्री और प्रतिष्ठित अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने सोमवार को बजट भाषण की आलोचना करते हुए कहा कि पांच साल में किसानों की आय दोगुनी करना संभव नहीं है, जिसकी घोषणा सरकार ने की है.

उन्होंने कहा, "कोई बड़ी घोषणा नहीं हुई, सिवाय एक के जिसका जिक्र रविवार को प्रधानमंत्री ने खुद किया था, कि सरकार अगले पांच साल में किसानों की आय दोगुनी करना चाहती है."

सिंह ने एक निजी चैनल से कहा, "मेरे खयाल से यह असंभव लक्ष्य है. सरकार नहीं बता सकती है कि यह कैसे हासिल होगा, क्योंकि इसका मतलब यह है कि अगले पांच साल में से प्रत्येक साल कृषि क्षेत्र की विकास दर 14 फीसदी रखनी होगी."

उन्होंने खुशी जताई कि सरकार पिछले वर्ष तय किए गए वित्तीय घाटा का लक्ष्य पूरा करने में सफल रही.

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली ने सोमवार को संसद में आम बजट 2016-17 पेश किया.

इस बजट में मध्यम वर्ग पर महंगाई का भार डालते हुए सर्विस टैक्स में 0.5 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की गई है जिससे वह मौजूदा 14.5 फीसदी से बढ़कर 15 फीसदी हो गया है. इसके अलावा आयकर के स्लैब में भी कोई बदलाव नहीं किया गया है.