पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

भीड़ के ढांचे का सच खुल चुका

रिकॉर्ड फसल लेकिन किसान बेहाल

मधुमेह की महामारी कीटनाशक के कारण?

अंतिम सांसे लेता वामपंथ

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

भीड़ के ढांचे का सच खुल चुका

रिकॉर्ड फसल लेकिन किसान बेहाल

अंतिम सांसे लेता वामपंथ

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
  पहला पन्ना >मुद्दा > Print | Share This  

घोटाले की बात पर कायम हूं: संजय सिंह

घोटाले की बात पर कायम हूं: संजय सिंह

नई दिल्ली. 17 फरवरी 2018
 

sanjay singh

राफेल विमानों के रक्षा सौदे में कथित घोटाले का आरोप लगाने वाले आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह को अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस समूह ने 5000 करोड़ रुपए के मानहानि का नोटिस भेजा है.

रिलायंस समूह द्वारा आरोप लगाया गया है कि राफेल विमान सौदे के संबंध में की गई एक प्रेस वार्ता में श्री सिंह द्वारा दिए समूह के बारे में दिए गए बयान 'अपमानजनक और गंभीर मानहानि' वाले थे.

अनिल अंबानी की अध्यक्षता वाले इस कारोबारी समूह ने कहा कि बयान से 'गंभीर बदनामी हुई और उनकी प्रतिष्ठा और साख को काफी नुकसान पहुंचा.'

इस मानहानि नोटिस के जवाब में संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा है कि, “उद्योगपतियों की दबंगई चरम पर है, पहले घोटाला करेंगे, फिर उसके ख़िलाफ़ आवाज़ उठाने वालों पर मानहानि, राफ़ेल रक्षा सौदे का घोटाला उजागर करने पर अम्बानी ने मेरे ऊपर देश का सबसे बड़ा 5000 करोड़ का मानहानि नोटिस भेजा, अपनी बात पर क़ायम हूं. बन्दर घुड़की नहीं चलेगी.”

गौरतलब है कि संजय सिंह ने राफेल डील के बारे में सवाल उठाया था कि कांग्रेस शासन के समय में जो सौदा प्रति विमान 526 करोड़ का था उसे एनडीए के शासन में 1640 करोड़ रुपए प्रति विमान में किया जा रहा है.

उन्होने यह भी आरोप लगाया था कि अनिल अंबानी की कंपनी रिलायंस डिफेंस को विमान के पार्ट्स बनाने के लिए 22,000 हजार करोड़ रुपये का ठेका दिया गया जबकि कंपनी इस क्षेत्र में 1 साल से भी कम का अनुभव रखती है.

उन्होंने राफेल डील को घोटालों का घोटाला करार देते हुए कहा था कि यह सरकार की ताबूत में आखिरी कील साबित होगी.
 


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   


 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in