पहला पन्ना > अंतराष्ट्रीय > अमरीका Print | Send to Friend | Share This 

यूनियन कार्बाइड पर कार्रवाई से अमरीका का इंकार

यूनियन कार्बाइड पर कार्रवाई से अमरीका का इंकार

वॉशिंगटन. 8 जून 2010

अमरीका ने भोपाल गैस त्रासदी के लिए ज़िम्मेदार कंपनी यूनियन कार्बाइड के खिलाफ किसी भी तरह की कार्रवाई करने की संभावना से इंकार किया है. दक्षिण एवं मध्य एशियाई देशों के लिए अमेरिका के सहायक सचिव रोबर्ट ब्लेक ने वॉशिंगटन में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा कि, “निश्चित तौर पर ही भोपाल गैस त्रासदी मानव इतिहास की सबसे बड़ी औद्योगिक त्रासदियों और औद्योगिक दुर्घटनाओं में से एक थी. और मैं उम्मीद करता हूं कि इस फैसले से पीड़ितों और उनके परिवार को कुछ राहत मिलेगी.”

ब्लेक ने यह भी कहा कि मैं उम्मीद नहीं करता कि इस फैसले से कोई नया सामने आएगा, चाहे वो कोई जाँच हो या कोई ऐसी ही चीज़. और इसके उलट हम उम्मीद करते हैं कि यह राहत में मददगार होगा. इसके अलावा ओबामा सरकार में विदेश विभाग के प्रवक्ता पीजे क्राउली ने इस मुद्दे पर बोलते हुए कहा कि हम उम्मीद कर रहे हैं कि इस केस से दोनों देशों के बीच के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक रिश्तों पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

उल्लेखनीय है कि सोमवार को भोपाल गैस कांड मामले में भोपाल के चीफ ज्यूडिशियल मजिस्ट्रेट मोहन पी तिवारी ने 8 आरोपियों को धारा 304-ए के तहत दोषी करार दिया और उन्हें दो-दो साल की सज़ा सुनाई है. गौरतलब है कि भारत ही नहीं अमरीका में भी मानवाधिकार कार्यकर्ता यूनियन कार्बाइड कंपनी के पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील कर रहे हैं.