पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
 पहला पन्ना > राजनीति > बिहार Print | Send to Friend | Share This 

सोनिया गांधी जवाब दें- मोदी

सोनिया गांधी जवाब दें- मोदी

पटना. 13 जून 2010


गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से देश जानना चाहता है कि आखिर भोपाल गैस कांड का जिम्मेवार कौन है. बिहार की राजधानी पटना में आयोजित भाजपा की स्वाभिमान रैली में गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने केंद्र सरकार के साथ-साथ बिहार की सरकार पर भी तीर चलाये. रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार की जमकर तारीफ की लेकिन उन्होंने एक बार भी मुख्यमंत्री नीतिश कुमार का नाम नहीं लिया.

नरेन्द्र मोदी ने कहा कि गुजरात और बिहार का संबंध बहुत पुराना है. गुजरात के हर मुसीबत में बिहार के लोग आगे बढ़कर हमारी मदद की है, जिसके लिए आज मैं यहां के लोगों का बहुत बड़ा आभारी हूं साथ ही सिर झुकाकर यहां के लोगों का धन्यवाद करता हूं. मोदी ने कहा गुजरात के हर तहसील में बिहारी भाई मौजूद हैं और हमारा संबंध भाईयों की तरह हैं.

गुजरात के विकास का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि आज हमारे यहां पर हर घर में बिजली है, कोई भूख से नहीं मरता. उन्होंने कहा कि हमारे यहां के किसान कपास की खेती करते हैं और इसका व्यापार करने के लिए वे चीन तक पहुंच गए हैं लेकिन अन्य राज्यों में किसानों की स्थिति काफी दयनीय है. आज हमारे यहां पर कोई खदान नहीं है लेकिन फिर भी इतनी बिजली पैदा होती है कि दूसरे राज्यों को गुजरात दे सकता है.

नक्सलवाद, माओवाद, आतंकवाद, बढ़ती महंगाई, देश के आर्थिक विकास पर मोदी ने कहा कि मुंबई हमले में फांसी की सजा पाए आतंकवादी अजमल कसाब को तत्काल फांसी दे देनी चाहिए. उसके बाद देश में जिस तरह से मंहगाई बढ़ रही है उससे आम लोग त्रस्त आ चुके हैं. यह मुद्दा देश में सबसे गंभीर है लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी चुप्पी साधे हुए हैं. उन्हें मंहगाई के खिलाफ आगे आना चाहिए था.

भोपाल गैस त्रासदी पर केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा कि आज यह पूरी दुनिया के सामने गैस त्रासदी के आरोपियों को किस तरह से बचाया गया. उन्हीं के लोग आज खुलकर यह बता रहे हैं कि किस तरह से अपराधियों को बचाया गया. मोदी ने कहा कि आज पूरा देश यह जानना चाहता है कि भोपाल गैस त्रासदी में हजारों लोगों की मौत का सौदागर कौन है. हम सोनिया गांधी जी से यह जवाब जानना चाहते हैं.


इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   

 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in