पहला पन्ना > मुद्दा > समाज Print | Send to Friend | Share This 

अर्जुन सिंह के खिलाफ केस दर्ज

अर्जुन सिंह के खिलाफ केस दर्ज

भोपाल. 15 जून 2010


युनियन कार्बाइड गैस त्रासदी मामले में भोपाल की स्थानीय अदालत में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह के खिलाफ एक आपराधिक मामला दर्ज किया गया है. अर्जुन सिंह पर 1984 में भोपाल में हुए गैस कांड के मुख्य आरोपी यूनियन कार्बाइड के पूर्व सीईओ एंडरसन को कथित तौर पर गलत तरीके से रिहा कराने का आरोप है.

arjun singh


अर्जुन सिंह के साथ ही भोपाल के तत्कालीन जिलाधिकारी मोती सिंह और एसपी स्वराज पुरी के खिलाफ भी अलग से एक मुकदमा दायर किया गया है. मोती सिंह और स्वराज पुरी पर एंडरसन को सुरक्षित भगाने का आरोप लगाया गया है.

भोपाल की मुख्य न्यायायिक मजिस्ट्रेट सीजेएम आरजी सिंह की अदालत में पहली बार भोपाल गैस कांड को लेकर कोई निजी मुकदमा दर्ज किया गया है. अर्जुन सिंह के खिलाफ वकील फुरखान खान ने शिकायत दर्ज कराई है.

इस मामले में आगामी 26 जून को सुनवाई होगी. वहीं, मोती सिंह और स्वराज पुरी के खिलाफ एक अन्य निजी शिकायत गैस पीडित महिला उद्योग संगठन के संयोजक अब्दुल जब्बार ने दर्ज कराई है. इस मामले की सुनवाई के लिए 24 जून की तारीख तय की गई है.

ज्ञात रहे कि इससे पहले पूर्व केन्द्रीय मंत्री और प्रधानमंत्री राजीव गांधी के करीबी सहयोगी रहे अरूण नेहरू ने कहा था कि मध्य प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह ने भोपाल गैस कांड के मुख्य आरोपी वारेन एंडरसन को रिहा करने का फैसला लिया था. नेहरू उस समय कांग्रेस में महासचिव के पद पर थे

अरुण नेहरू के अनुसार 7 दिसंबर 1984 को मुख्यमंत्री की प्रेस कॉन्फ्रेंस के मुताबिक अर्जुन सिंह ने एंडरसन को रिहा करने का फैसला किया और इस बारे में केन्द्र को सूचित किया। वही प्रभारी थे और उन्होंने ही यह फैसला लिया.