पहला पन्ना > राज्य > महाराष्ट्र Print | Send to Friend | Share This 

पुणे विस्फोट जाँच में महाराष्ट्र एटीएस की चूक

पुणे विस्फोट जाँच में महाराष्ट्र एटीएस की चूक

पुणे. 16 जून 2010

महाराष्ट्र के पुलिस महानिदेशक डी. शिवनंदन का मानना है कि पुणे बम विस्फोट की जाँच करने में राज्य के आतंकवाद विरोधी दस्ते (एटीएस) से चूक हुई थी. उन्होंने मंगलवार रात को पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि 13 फरवरी 2010 को पुणे की जर्मन बेकरी में हुए बम विस्फोट की जाँच करने में महाराष्ट्र एटीएस से गलती हुई है. उन्होंने कहा कि एटीएस को पुणे विस्फोट में वैज्ञानिक तरीके से जाँच पड़ताल करनी थी और फिर मामले की तह तक पहुँचने के लिए संदिग्ध आतंकी संगठनों के बारे में सुबूत जुटाने चाहिए थे.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले मुंबई की एक सत्र अदालत पुणे बम विस्फोट मामले के कथित आरोपी अब्दुल समद को सुबूतों के अभाव में जमानत दे चुकी है. शिवनंदन ने कहा कि पुणे बम विस्फोट पहली गलती थी और उसकी जाँच दूसरी. उन्होंने ये भी माना कि ब्लास्ट के चार महीने बीत जाने के बाद भी एटीएस ने कोई कामयाबी हासिल नहीं की है. गौरतलब है कि पुणे की मशहूर जर्मन बेकरी में हुए इस विस्फोट में 15 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी और 50 से अधिक घायल हुए थे.