पहला पन्ना > मुद्दा > भोपाल गैस त्रासदी Print | Send to Friend | Share This 

भोपाल गैस पीड़ितों को 10 लाख मुआवज़ा

भोपाल गैस पीड़ितों को 10 लाख मुआवज़ा

नई दिल्ली. 21 जून 2010

भोपाल गैस त्रासदी पर गठित मंत्रीसमूह की रिपोर्ट में मृतकों के परिजनों को 10 लाख रुपये मुआवजा देने की सिफारिश की गई है. इसके अलावा स्थाई तौर पर विकलांग हो चुके पीड़ितों को 5 लाख और आंशिक रूप से विकलांगों को 3 लाख रुपये मुआवजे स्वरूप देने का प्रावधान रखा गया है. हालांकि मुआवजे की ये राशि में से पीड़तों को पहले मिले मुआवजे की राशि को घटा दिया जाएगा. मंत्रीसमूह के अध्यक्ष, केंद्रीय गृहमंत्री पी.चिदंबरम ने पत्रकारों से बात करते हुए रिपोर्ट की मुख्य सिफारिशों को साझा किया.

चिदंबरम ने कहा, “हमारे मंत्रीसमूह ने मुआवजे, कानूनी प्रक्रिया, एंडरसन के प्रत्यर्पण संबंधी मुद्दों में भात सरकार के पास उपलब्ध सभी विकल्पों के बारे में फैसला लिया है.” उन्होंने ये भी कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता पीड़ितों को राहत पहुँचाने की है और इसके लिए उन्होंने सभी ज़रूरी कदम उठाए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि सरकार वॉरेन एंडरसन के प्रत्यर्पण के लिए नए सिरे से कोशिश करेगी जिसके लिए एक याचिका उच्चतम न्यायालय में दाखिल की जाएगी.