पहला पन्ना > बहस > झारखंड Print | Send to Friend | Share This 

बंद के दौरान देश भर में नक्सली हिंसा

बंद के दौरान देश भर में नक्सली हिंसा

नई दिल्ली. 8 जुलाई 2010


माओवादी प्रवक्ता सी राजकुमार ऊर्फ आजाद की कथित मुठभेड़ में मारे जाने के विरोध में नक्सलियों के दो दिनों के बंद के दौरान देश भर में कई हिंसक घटनाओं की खबर है. छत्तीसगढ़ में जहां नक्सलियों ने 4 लोगों को मार डाला, वहीं झारखंड में कई जगह रेल पटरियों को नुकसान पहुंचाया है.

naxal-violance


छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले में नक्सलियों ने कांग्रेस नेता अवधेश गौतम के घर में घुसकर उनके 15 वर्षीय साले और एक सहयोगी की हत्या कर दी. दंतेवाड़ा के ही कुआँकोंडा थाने पर किये गये हमले में 2 सुरक्षाकर्मी मारे गये हैं.

दूसरी ओर कल रात धनबाद के पास नक्सलियों ने रेल की पटरी उड़ा दी. रेलवे ट्रैक को नुकसान पहुंचने के कारण कई ट्रेनों की आवाजाही पर असर पड़ा है. 3009 दून एक्सप्रेस, 2321 मुंबई मेल, 2307 जोधपुर एक्सप्रेस सहित कई अप और डाउन ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर घंटों खड़ा रहना पड़ा. हालांकि, रेलवे की मरम्मत का काम आज सुबह पूरा कर लिया गया है, जिसके ट्रेनों का आवागमन शुरू हो गया है.

उधर टाटा-मुंबई रेलमार्ग पर रात भर के लिए रेल परिचालन रोकने की खबर है. सूत्रों के अनुसार डाउन सारंडा रेल सुरंग से पहले और बेरमा के बीच गश्त करके लौटती आरपीएफ गश्ती दल को रेल पटरी के बीच संदिग्ध वस्तु मिली. जिसके बाद रात भर के लिये इस मार्ग से गुजरने वाली रेलगाड़ियों को रोक दिया गया. नक्सलियों ने झारखंड के कई इलाकों में सड़कों को खोद दिया है या उन पर पेड़ काट कर गिरा दिये हैं, जिससे आवागमन ठप्प हो गया है.