पहला पन्ना > राज्य > गुजरात Print | Send to Friend | Share This 

सोहराबुद्दीन मामले में सीबीआई का आरोप पत्र दाखिल

सोहराबुद्दीन मामले में सीबीआई का आरोप पत्र दाखिल

अहमदाबाद. 23 जुलाई 2010


केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबाआई) ने शुक्रवार को सोहराबुद्दीन शेख मुठभेड़ मामले में गुजरात के गृह राज्यमंत्री अमित शाह समेत 15 लोगों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया. सीबीआई प्रवक्ता हरीश बहल ने बताया कि इस आरोप पत्र में एक पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी), दो पुलिस अधीक्षक (एसपी), दो पुलिस उप अधीक्षक (डीएसपी), तीन निरीक्षक (इंस्पेक्टर), तीन उप निरीक्षक (सब इंस्पेक्टर), गुजरात अपराध शाखा के डीसीपी और एडीसी बैंक के दो शीर्ष अधिकारियों के नाम शामिल है. सीबीआई ने अतिरिक्त मुख्य न्यायाधीश की अदालत में सोहराबुद्दीन के फर्जी मुठभेड़ में मारे जाने और उनकी पत्नी कौसर बी की नृशंस हत्या के आरोप में इन 15 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है.

केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई)

 

सीबीआई इससे पहले अमित शाह के नाम पर दो बार सीबीआई के समक्ष पेश होने का समन जारी कर चुके है लेकिन उनके वकील ने सीबीआई से कुछ समय देने का अनुरोध किया था जिसे सीबीआई ने ठुकरा दिया. इसके बाद सीबीआई ने तीसरा समन जारी किया जिस पर भी अमित शाह सीबीआई के सामने प्रस्तुत नहीं हुए, जिसके बाद सीबीआई ने आरोप पत्र दाखिल कर दिया. अब भी अगर अमित शाह सीबीआई के सामने नहीं आते हैं तो सीबीआई उन्हें गिरफ्तार कर सकती है. इस बीच अमित शाह ने अग्रिम जमानत की याचिका पेश की थी जिसे भी विशेष अदालत ने खारिज कर दिया.

इससे पहले सीबीआई ने संकेत दिए थे कि वह आरोप पत्र 26 जुलाई तक दाखिल कर सकती है. इस पर उनके प्रवक्ता ने कहा कि चूंकि सीबीआई को इस मामले की जाँच की रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट को देनी है इसीलिए आरोपपत्र दाखिल करने में जल्दी की गई. सीबीआई द्वारा दाखिल आरोपपत्र में इन 15 लोगों पर भारतीय दंड संहिता की धाराएं 120-बी, 342, 364, 365, 368, 384 और 201 के तहत आरोप लगाए हैं जो कि हत्या, अपहरण, अपहरण कर बंदी बनाए रखने, सुबूत नष्ट करने, प्रताड़ना और सुबूत गायब कर आरोपियों को बचाने की कोशिश करने से संबंधित हैं.