पहला पन्ना प्रतिक्रिया   Font Download   हमसे जुड़ें RSS Contact
larger
smaller
reset

इस अंक में

 

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

सवाल विकास की समझ का

प्रतिरोध के वक्ती सवालों से अलग

गरीबी उन्मूलन के नाम पर मज़ाक

जनमत की बात करिये सरकार

नेपाल पर भारत की चुप्पी

लोहिया काल यानी संसद का स्वर्णिम काल

स्मार्ट विलेज कब स्मार्ट बनेंगे

पाकिस्तान आंदोलन पर नई रोशनी

नर्मदा आंदोलन का मतलब

क्यों बढ़ रहा भूख का आंकड़ा

हमारे कुलभूषण को छोड़ दो

भारत व अमेरिका में केमिकल लोचा

युद्ध के विरुद्ध

किसके साथ किसका विकास

क्या बदल रहा है हिन्दू धर्म का चेहरा?

मोदी, अमेरिका और खेती के सवाल

 
 पहला पन्ना > राजनीति > उ.प्र. Print | Send to Friend | Share This 

पूर्व बसपा सांसद को भीड़ ने बेदम पीटा

पूर्व बसपा सांसद को भीड़ ने बेदम पीटा

सोनभद्र. 13 अगस्त 2010


आपरेशन दुर्योधन के खलनायक और संसद में पैसे लेकर सवाल पूछने के मामले में दोषी पूर्व बहुचर्चित बसपा सांसद नरेद्र सिंह कुशवाहा की आज उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में उग्र भीड़ ने जम कर पिटाई कर दी. पिटाई में बुरी तरह से घायल नरेन्द्र सिंह कुशवाहा को वाराणसी रेफर कर दिया गया है.

पूर्व बसपा सांसद जो कि अब बसपा के चंदौली जिले के प्रभारी भी हैं, पर आरोप है कि इनके द्वारा इन दिनों शराब के नशे में रोज बरोज लोगों को धमकाया जा रहा था. दो दिन पूर्व उन्होंने हथिनाला नामक जगह पर एक 85 साल के बुजुर्ग हिंगूराम केवट को रिवाल्वर की मुठिया से प्रहार कर घायल कर दिया, वहीं आज सबेरे अपने गृह निवास सोनभद्र के पटवध इलाके के जवाहर पण्डे को इसलिए धमकाने लगे क्योंकी उन्होंने आगामी पंचायत चुनावों में नरेन्द्र सिंह कुशवाहा की पत्नी के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान किया था.

सूत्रों के अनुसार शुक्रवार की सुबह नरेन्द्र ने जवाहर पण्डे को अपने आवास पर बुलाया और हथियार के बल पर चुनाव में खड़ा न होने की धमकी देने लगे. जब पांडे ने इससे इनकार किया तो नरेन्द्र ने बन्दुक निकाल कर उनके सीने पर तान दी और उन्हें चार पांच थप्पड़ रसीद दिया.

इस घटना के बाद जवाहर पांडे के समर्थकों ने नरेन्द्र का घर घेर लिया और वाराणसी शक्तिनगर राजमार्ग जाम कर दिया. भीड़ को देखकर पूर्व सांसद और भी नाराज हो गये और बन्दुक लेकर खुलेआम लोगों को ललकारने लगे. इसके बाद आक्रोशित जनता ने एक साथ नरेन्द्र पर हमला बोल दिया और लात घूसों से उनकी जमकर पिटाई कर दी.

पिटाई से बचने के लिए नरेन्द्र एक समीपवर्ती नाले में कूद गये लेकिन फिर भी लोगों ने उन्हें दौड़ा-दौड़ा कर पिटा. लगभग दो घंटे तक लगे जाम की वजह से पूरे वाराणसी-शक्तिनगर मार्ग पर हजारों गाड़ियों का काफिला लग गया था. जाम की वजह से पुलिस को मौके पर पहुँचने में काफी समय लगा. भीड़ को तितर बितर करने के लिए पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा , ग्रामीणों का कहना था कि इस मामले में पहले पूर्व सांसद के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए.

पुलिस ने इस मामले में तीन नामजद लोगों के अलावा सैकड़ों अज्ञात लोगों के खिलाफ बलवा करने का मुकदमा दर्ज किया है. गौरतलब है कि पूर्व सांसद पर दारू पीकर बवाल करने, लोगों को मरने पीटने धमकाने के अलावा छेड़ छाड़ करने का पुराना रिकार्ड रहा है.

मुख्यमंत्री मायावती ने कहा है कि इस घटना के मामले में कहना था कि अभी तक पूर्व सांसद के खिलाफ किसी प्रकार का कोई शिकायत नहीं मिली है. अगर कोई शिकायत दर्ज करायी जाती है तो जांच करके उचित कार्यवाही की जाएगी.

सभी प्रतिक्रियाएँ पढ़ें
 

इस समाचार / लेख पर पाठकों की प्रतिक्रियाएँ

 
 

pravesh () delhi

 
 और क्या कर सकती है जनता ऐसे सांसद का. इनकी मुखिया को खुद तमीज नहीं है. जनप्रतिनिधि बना कर हम ही भूल करते हैं. देर से ही सही, सुधर जाओ मतदाता, भाग्यविधाता. 
   

इस समाचार / लेख पर अपनी प्रतिक्रिया हमें प्रेषित करें

  ई-मेल ई-मेल अन्य विजिटर्स को दिखाई दे । ना दिखाई दे ।
  नाम       स्थान   
  प्रतिक्रिया
   

 
  ▪ हमारे बारे में   ▪ विज्ञापन   |  ▪ उपयोग की शर्तें
2009-10 Raviwar Media Pvt. Ltd., INDIA. feedback@raviwar.com  Powered by Medialab.in